DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों में जागरूकता लाने को ट्रेनिंग कैलेंडर बना

बमेती ने राज्य के किसानों में जागरूकता लाने और कृषि संबंधी योजनाआें की जानकारी देने के लिए लगातार चलाये जाने वाले ट्रेनिंग कार्यक्रमों का कैलेन्डर बना लिया है। ऐसा राज्य में पहली बार किया जा रहा है। वर्तमान में जारी कैलेन्डर में मार्च तक के कार्यक्रम जारी किए गए हैं। कैलेन्डर के अनुसार आत्मा के परियोजना निदेशकों और उपनिदेशकों के लिए आज से जारी ट्रेनिंग कार्यक्रम के अलावा मार्च तक कुल सात कार्यक्रम आयोजित किए जायेंगे।ड्ढr ड्ढr 12 फरवरी को किसानों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से वर्मी कंपोस्ट और जैविक खेती पर एक ट्रेनिंग कर्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में किसानों की समस्याआें पर भी चर्चा होगी। यह कार्यक्रम राज्यस्तरीय होगा। 15 फरवरी को भी एक राज्यस्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा जिसमें संगठन और फेडरेशन के निर्माण और प्रबंधन पर चर्चा होगी। यह कार्यक्रम दो दिवसीय होगा जो 16 फरवरी तक चलेगा। इसके अलावा 20 फरवरी से एक कार्यक्रम शुरू होगा जो 22 फरवरी तक चलेगा। इस कार्यक्रम में किसानों को सघन खेती के बारे में बताया जाएगा। फरवरी माह का अंतिम कार्यक्रम 27 से 2तक होगा जिसमें किसानों को वित्तीय लेखा के संधारण के बारे में बताया जायेगा। बमेती के निदेशक डा. आर. के. सोहाने ने बताया कि मार्च माह के कार्यक्रमों की भी घोषणा कर दी गई है। मार्च में तीन कार्यक्रम आयोजित किए जायेंगे। पहला कार्यक्रम छह मार्च से सात मार्च तक आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में सामाजिक, आर्थिक और नीतिगत चुनौतियों पर चर्चा होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किसानों में जागरूकता लाने को ट्रेनिंग कैलेंडर बना