अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गृहरक्षकों ने आंदोलन का बिगुल बजाया

विभिन्न मांगों को लेकर गृहरक्षकों ने मंगलवार को राजधानी में आंदोलन का बिगुल बजा दिया। पहले चरण में गांधी मैदान से प्रदर्शन करते हुए छज्जूबाग स्थित मुख्यालय पर पहुंचे। वहां धरना-प्रदर्शन के बाद बिहार रक्षा वाहिनी स्वयं सेवक संघ के बैनर तले आंदोलनकारियों ने ‘करो या मरो’ के नारे के साथ विरोध जुलूस निकाला जो रेडियो स्टेशन, फ्रेजर रोड, स्टेशन रोड होते हुए आर. ब्लॉक गोलंबर तक गया। वहां गृहरक्षक अपनी समस्याओं को लेकर बेमियादी धरना पर बैठ गये। वहां संघ के अध्यक्ष अरुण कुमार ठाकुर, कार्यकारी अध्यक्ष देशबंधु आजाद, वरीय उपाध्यक्ष कन्हैया राय उर्फ झलक बाबा, जगरनाथ यादव, महासचिव सुदेश्वर प्रसाद, सुनील चौधरी, हरेन्द्र सिंह, बैजनाथ राय, सियाराम शर्मा, समेत अन्य नेताओं ने भाग लिया।ड्ढr ड्ढr इससे पूर्व मुख्यालय में महासमादेष्टा के साथ प्रतिनिधिमंडल की बातचीत होने व मांगों पर सहमति बनने की बात संघ के बयान में कही गई है। इधर धरना को संबोधित करते हुए संघ के विभिन्न नेताओं ने वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले वर्ष नवम्बर महीने में मुख्यमंत्री के निर्देश पर संघ के प्रतिनिधिमंडल के साथ गृह विभाग के प्रधान सचिव की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई थी। हालांकि दो महीने बीत जाने के बावजूद अब तक बैठक में लिये गये निर्णय या आश्ववासन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। संघ की मांगों में 44 वर्ष से अधिक आयु के गृहरक्षकों को सशस्त्र ड्यूटी करने पर लगाये गये रोक को हटाने, 58 वर्ष तक स्वस्थ गृहरक्षकों को ड्यटी देने, कर्तव्य भत्ता 250 रुपये देने के साथ ही अलग से धुलाई भत्ता देने, विज्ञापन संख्या 104 और 204 में सफल गृहरक्षकों को पुलिस, बीएमपी या जेल में अविलंब योगदान कराने, वर्दी भत्ता 2650 रुपए देने, सभी जिलाओं में कार्यरत गृहरक्षकों के वर्षो से बकाया भत्ता की भुगतान करने समेत कई अन्य शामिल हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गृहरक्षकों ने आंदोलन का बिगुल बजाया