DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनसे की हिंसा रोके महाराष्ट्र:केन्द्र

उत्तर भारतीयों के खिलाफ महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) कार्यकर्ताओं की हिंसा को रोकने के लिए केन्द्र सरकार ने महाराष्ट्र सरकार को तुरंत कदम उठाने को कहा है। केन्द्र की ओर से राज्य सरकार को निर्देश दिए गए हैं कि वहाँ के धर्मनिरपेक्ष ताने-बाने को बरकरार रखा जाए। राज की पार्टी की पार्टी की मान्यता खत्म करने संबंधी एक जनहित याचिका इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में भी दाखिल की गई है। वहीं, बुधवार को भी मनसे कार्यकर्ताओं का उत्पात जारी रहा। मुम्बई के बाहरी इलाके में दो तिपहिया वाहनों को फूँक दिया गया, जबकि पुणे के एक सिनेमाहॉल में चल रही भोजपुरी फिल्म का प्रदर्शन उन्होंने रुकवा दिया। मनसे कार्यकर्ताओं का हुड़दंग रोकने में अब तक ज्यादा सफल नहीं हो सकी पुलिस ने राज ठाकरे से कहा है कि वे अपने कार्यकर्ताओं को रोकें। वैसे इन सबसे मनसे के कई कार्यकर्ता नाराज भी हैं। ऐसे ही करीब 200 राज समर्थकों ने शिवसेना की सदस्यता भी ले ली है।ड्ढr केन्द्रीय गृह मंत्री शिवराज पाटील ने महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से जारी हिंसा को लेकर बुधवार को गहरी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को हिंसा पर उतारू लोगों से सख्ती से पेश आने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि मुम्बई के विकास में मराठियों के अलावा अन्य राज्यों के लोगों का भी हाथ है और विकास का फायदा सभी को मिलना चाहिए। केन्द्र के इस निर्देश के बावजूद महाराष्ट्र में हिंसा की छिटपुट घटनाएँ हो रही हैं। मुम्बई के बाहरी इलाके ओशीवारा में मंगलवार देर रात दो तिपहिया वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिस हालाँकि इसे मनसे कार्यकर्ताओं से नहीं जोड़ रही है, जबकि पुणे में फिल्म ‘भोजपुरी भैया’ का प्रदर्शन रुकवाने की खबर है। इस बीच, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. राजशेखर रेड्डी ने महाराष्ट्र में रहने वाले अपने राज्य के लोगों की सुरक्षा की माँग की है। उन्होंने इस बारे में मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख से फोन पर बात भी की। दूसरी ओर, महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता संजय निरुपम ने कहा है कि वह पार्टी के बड़े नेताओं को स्थिति की पूरी जानकारी देंगे। उन्होंने राज ठाकरे की गिरफ्तारी की भी माँग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मनसे की हिंसा रोके महाराष्ट्र:केन्द्र