DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर घाटी में हिमस्खलन से पांच लोगों की मौत

श् मीर घाटी में बुधवार रात हुए भीषण हिमस्खलन में दो कुली और तीन सैनिक मारे गए और दो दर्जन से अधिक मकानों तथा अन्य भवनों को नुकसान पहुंचा। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि नौगाम सेक्टर में एक सुरक्षा चौकी पर तैनात तीन सैनिकों और दो कुली हिमस्खलन की चपेट में आकर बर्फ के नीचे दब गए। हालांकि सेना के बचाव दलों ने तुरन्त ही वहां जाकर घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया जहां एक सैनिक की मौत हो गई। प्रवक्ता ने कहा कि साधना र्दे के समीप जनरल रिजर्व इंजीनियरिंग फोर्स की रोड आेपनिंग पार्टी के तीन जवान हिमस्खलन की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। बचाव दल ने इन्हें तुरन्त ही एक अस्पताल में भर्ती करा दिया जहां एक व्यक्ित की मौत हो गई। एक पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि इसी सुरक्षा चौकी पर एनसीए के साथ काम कर रहे दो कुलियों नियाज मोहम्मद तथा मुमताज अहमद बर्फीले तूफान की चपेट में आकर मारे गए। अभी तक इनके शव नहीं मिले हैं। कुपवाड़ा में बाड़ी बाहक चौकी पर तैनात 13 जेएकेएलआई के रायफलमैन विनोद कुमार की बर्फ में दफन होने के बाद मौत हो गई। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि हिमस्खलन से दो दर्जन से यादा घर और अन्य भवन नष्ट हो गए। एक यातायात पुलिस अधिकारी ने बताया कि सात फुट से यादा बर्फबारी होने, भूस्खलन और तेज बारिश के कारण गुरुवार को लगातार चौथे दिन भी 300 किलोमीटर लंबा श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग बंद रहा। श्रीनगर और जम्मू में हजारों यात्री तथा 600 से अधिक ट्रक एवं वाहन राजमार्ग पर रुके हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कश्मीर घाटी में हिमस्खलन से पांच लोगों की मौत