DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राशन कीमतें और एपीएल का खाद्यान्न कोटा स्थिर

प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए) ने तय किया है कि राशन के कीमतों को अगले साल के लिए भी स्थिर रखा जाए। वहीं गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) के परिवारों को 35 किलो प्रति माह का खाद्यान्न कोटा जारी रहेगी। जबकि गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) परिवारों के लिए राशन में खाद्यान्न की मात्रा चालू साल के 85 लाख टन के स्तर पर ही स्थिर रहेगी। सीसीईए के एक अन्य फैसले के तहत पटना स्थिर भारत वैगन एंड इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड के वित्तीय पुनरुद्धार के बाद इसे रेलवे को सौंप दिया जाएगा। सीसीईए बैठक के फैसलों की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री ने बताया कि लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत दाम खाद्यान्न आवंटन पर गठित मंत्रियों के समूह की सिफारिशों को सीसीईए ने स्वीकार कर उक्त फैसले लिये हैं। एपीएल के लिए खाद्यान्न की चालू साल की मात्रा स्थिर कर दी गई है। हालांकि असम को छोड़ पूवर्ोत्तर रायों, सिक्िकम, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और संघ शासित द्विपसमूहों में एपीएल परिवारों को वर्तमान स्तर पर ही राशन की आपूर्ति होती रहेगी। जबकि अंत्योदय अन्न योजना और बीपीएल परिवारों को हर माह 35 किलो खाद्यान्न का आवंटन जारी रहेगा। कल्याण योजनाआें और कल्याणकारी संस्थानों के छात्रवासों के लिए भी बीपीएल दाम पर खाद्यान्न उपलब्ध जारी रहेगी। यह फैसले अप्रैल, 2008 से प्रभावी होंगे। सीसीईए के एक अन्य फैसले के पटना स्थित भारत वैगन एंड इंजीनियरिंग कंपनी लि. के वित्तीय पुनर्गठन के प्रस्ताव को मंजूरी दी दे गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राशन कीमतें और एपीएल का खाद्यान्न कोटा स्थिर