DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लघु व कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देगी सरकार

राज्य सरकार ने खादी से संबंधित लघु एवं कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने का फैसला लिया है। सरकार इसमें बेहतर रोजगार की संभावनाएं भी तलाश रही है। इसके लिए युवकों को कुटीर उद्योगों का प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण पाने वाले युवकों को सरकार छात्रवृत्ति भी देगी।छात्रवृत्ति के मद में लगभग साढ़े आठ लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। सूती खादी से जुड़े उद्योग के लिए प्रशिक्षण लेने वाले युवकों का प्रशिक्षण दो सत्रों में होगा। एक सत्र में 50 युवकों को प्रशिक्षित किया जायेगा उन्हें 300 रुपये प्रति माह छात्रवृत्ति के रूप में दिये जायेंगे।रेशमी और ऊनी खादी से जुड़े उद्योगों के लिए भी प्रशिक्षण लेने वालों को 300 रुपये प्रति माह दिये जायेंगे।ड्ढr दोनों के लिए दो-दो सत्र चलाये जायेंगे तथा दोनों ही क्षेत्रों में एक सत्र के दौरान 20 युवकों को प्रशिक्षित किया जायेगा।ड्ढr ड्ढr संयुक्त संसदीय समिति की अफसरों के साथ बैठक आजड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। लाभ के पद को लेकर बिहार के दौरे पर आई संयुक्त संसदीय समिति कल राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ बैठक करेगी। समिति में सांसद और अधिकारियों की कुल संख्या 15 है। समिति के अध्यक्ष सांसद इकबाल अहमद सरादगी हैं। अन्य सांसदों में बी. कृष्णदेव, राजेश वर्मा, वीरेन्द्र भाटिया, संतोष गंगवार, मधुसूदन मिस्त्री, सत्यनारायण जाटिया और रघुनाथ झा शामिल हैं। समिति में भारत सरकार के विधि विभाग के अपर सचिव एन.एल. मीणा, निदेशक आर.एस. मिश्रा, उप सचिव के. जेना, अवर सचिव विजेन्द्र सिंह और नीरज भी शामिल हैं। बैठक के एजेंडा के संबंध में अभी राज्य सरकार के अधिकारियों ने कुछ भी बताने में असमर्थता जताई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लघु व कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देगी सरकार