DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाघमारे ने कसाब का केस लड़ने का फैसला किया

राज्य सरकार की ओर से नियुक्त महिला वकील अंजलि वाघमारे ने बुधवार को पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब की पैरवी के लिए उसका वकील बने रहने का फैसला किया है। शिव सेना के उग्र विरोध के कारण वह दुविधा में थीं। शिवसेना के विरोध के बाद वाघमारे तय नहीं कर पा रही थी कि वह पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब की पैरवी करें या नहीं। मंगलवार को विशेष न्यायाधीश एम.एल. तहिलियानी से वाघमारे ने एक दिन का समय मांगा था ताकि वह फैसला ले सकें। उन्होंने अदालत को बताया था कि वह काफी तनाव में हैं। उधर वहीं अदालत ने वाघमार के घर बीती रात हंगामा करने और धमकाने के मामले में शिवसैनिकों को एक दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है। मुंबई पर 26 नवंबर को आतंकी हमला करने के दौरान पुलिस ने कसाब को जिंदा पकड़ने में कामयाबी हासिल की थी। अब उस पर मामला चलाने के लिए राज्य सरकार की ओर से वाघमार को कसाब की वकील के रूप में सोमवार को नियुक्त किया गया था। इससे पहले शिवसैनिकों ने अमरावती के वकील महेश देशमुख, मुंबई के वकील अशोक सरोगी और के. लाम के घर पर भी हंगामा किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाघमारे ने कसाब का केस लड़ने का फैसला किया