DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘ब्लास्ट थ्योरी’ को पीपीपी ने किया खारिज

पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या की जांच कर रही स्कॉटलैंड यार्ड ने अपनी रिपोर्ट सार्वजनिक करते हुए कहा है कि बेनजीर भुट्टो की मौत गोली लगने से नहीं बल्कि विस्फोट के कारण गिरने के कारण उनको लगी गंभीर चोट के कारण हुई है। हालांकि बेनजीर भुट्टो की पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने इसको खारिज करते हुए इसकी मांग की है कि इसकी जांच संयुक्त राष्ट्र संघ करे। रिपोर्ट में कहा गया है कि एक हमलावर ने बेनजीर भुट्टो पर गोली चलाई, जब वे अपने समर्थकों का अभिवादन कर रही थीं। लेकिन वह गोली उनको नहीं लगी। बाद में हुए विस्फोट के कारण जब वह अपने कार में गिरीं तो उनको गंभीर चोटें आईं। वरिष्ठ जांच अधिकारी जॉन मैक ब्राइन ने कहा है कि धमाके के बाद जब बेनजीर कार के अंदर गिरी तो कार के सनरूफ और उनके सिर में जबरदस्त टक्कर हुई, जिससे उनको गंभीर चोटें आई, जिसके कारण उनकी मौत हो गई। हालांकि रिपोर्ट में इस बात को माना गया है कि घटनास्थल की गहन जांच रिपोर्ट की कमी तथा कुछ अन्य तथ्यों की कमी के कारण जांच में बड़ी कठनाई हुई, लेकिन इतने साक्ष्य थे जिसकी बदौलत मौत के कारणों के बारे में निश्चित रूप में कुछ कहा जा सके। इस प्रकार इससे पाकिस्तान सरकार की उस रिपोर्ट की भी पुष्टि होती है, जिसमें उसने बेनजीर की मौत गोली लगने से नहीं बल्कि गंभीर चोट के कारण माना गया था। गौरतलब है कि बेनजीर भुट्टो पर 27 दिसंबर को रावलपिंडी में उस समय आत्मघाती हमला किया गया, जब वे चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद अपनी कार से अपने समर्थकों का अभिवादन कर रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘ब्लास्ट थ्योरी’ को पीपीपी ने किया खारिज