DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोमदेव पर दांव हारे पेस, बोपन्ना ने लाज रखी

भारत के गैरखिलाड़ी कप्तान लिएंडर पेस युवा सोमदेव देवबर्मन पर दांव हार गए। जीवन का पहला डेविस कप मैच खेल रहे सोमदेव अनुभव की कमी के कारण शीर्ष उजबेकी डेनिस इस्तोमिन के सामने टिक नहीं पाए। इस्तोमिन ने उन्हें सीधे सेटों में 6-3, 6-4, 6-2 से पराजित किया। गनीमत थी कि पेस के न खेलने से भारतीय आशाओं के केंद्र बने रोहन बोपन्ना ने दिन का पहला मैच जीत लिया था। यानी डेविस कप एशिया ओसियाना ग्रुप एक मुकाबले में पहला दिन 1-1 से बराबर रहा, जिसे कप्तान पेस ने सफलता बताया। पेस ने कहा कि यदि 2-0 से आगे होते तो महान सफलता होती पर यह स्थिति पिछली बार 0-2 से पिछड़ने के मुकाबले बेहतर है। सर्द सुबह कुछ पानी की बौछारें भी पड़ीं और कुछ ओस भी। सुबह दस बजे शुरू होने वाला मुकाबला सवा ग्यारह बजे शुरू हुआ। रोहन बोपन्ना ने दिन की शानदार शुरुआत की। घासीली सतह पर उन्होंने उम्दा प्रदर्शन किया और फारुख दुस्तोव को सवा घंटे में 6-3, 6-3, 6-1 से हराकर बौना साबित कर दिया। मजेदार बात यह थी कि अपनी गलतियों से अधिकतर लाभ गंवा देने वाले रोहन ने बहुत सधा खेल खेला। पहले सेट में तो उन्होंने अपनी सर्विस पर दूसरे नम्बर के उजबेकी खिलाड़ी को एक भी अंक नहीं लेने दिया। छठे गेम में सर्विस ब्रेक लगाकर बोपन्ना ने पहला सेट जीता। सटीक सर्विस और नेट पर आकर उनकी वाली व ड्राप वाली देखते ही बनती थीं। एक परफेक्ट ग्रास कोर्ट खिलाड़ी की भांति बोपन्ना ने सर्व एवं वाली खेलीं और अनेक क्रास कोर्ट और पासिंग शाट्स से दुस्तोव को हैरान किया। फारुख दुस्तोव एकदम फीके रहे। उन्होंने केवल तीसरे सेट के छठे गेम में एक ब्रेक अंक अर्जित किया, जब बोपन्ना भी ऐस व डबल फाल्ट के समीकरण में कुछ भूल कर बैठे। बाकी दूसरे सेट में दुस्तोव ने पांचवें और नौवें गेम में सर्विस गंवाई जबकि तीसरे सेट में दूसरे और छठे गेम में सर्विस खोकर हार वरण की। अपने से 600 स्थान ऊपर के खिलाड़ी के विरुद्ध जीवन का पहला मैच खेल रहे सोमदेव ने यों तो प्रभावित किया पर उन्हें अनुभव की कमी मार गई। दोनों ही बेस लाइन के खिलाड़ी हैं और दोनों ही ग्रास कोर्ट पर अपने आप को सहज नहीं कर पा रहे थे। इस्तोमिन अलबत्ता अपने अनुभव का फायदा उठा रहे थे जबकि सोमदेव अनेक ब्रेक अंक अर्जित करके भी उन्हें भुना नहीं पा रहे थे। मैच की शुरुआत ही सोमदेव ने इस्तोमिन की सर्विस तोड़ने के कगार पर पहुंच कर की पर उजबेकी खिलाड़ी सर्विस बचा ले गए। कनवर्ट न कर पाने का आलम यह रहा कि सोमदेव ने पहले सेट में सात ब्रेक प्वाइंट हासिल किए और गंवा दिए जबकि इस्तोमिन ने केवल दो ब्रेक प्वाइंट में से एक को कनवर्ट किया और पहला सेट 6-3 से जीत लिया। दूसरे सेट में पहले ही गेम में सोम की सर्विस टूटी पर दूसरे ही गेम में वापसी करते हुए उन्होंने सर्विस ब्रेक लगा 1-1 की बराबरी पा ली। चौथे गेम में उन्हें फिर एक ब्रेक अंक मिला था पर वे लाभ नहीं ले पाए जबकि पांचवें गेम में इस्तोमिन ने एकमात्र ब्रेक अंक का लाभ लेकर फिर सर्विस ब्रेक लगाया और दूसरा सेट भी अपने नाम कर लिया। अब युवा भारतीय रिदम खो चुके थे और तीसरे और पांचवें गेम में सर्विस खोकर सोमदेव ने तीसरा सेट भी गंवा दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सोमदेव पर दांव हारे पेस, बोपन्ना ने लाज रखी