DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सदन में फोड़े गए काले गुब्बारे

प्रदेश विधानमंडल के बजट सत्र की शुरुआत शुक्रवार को ऐतिहासिक हंगामे से हुई। समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने गैस भरे काले गुब्बारे छोड़े और उन्हें धमाके के साथ फोड़ा भी। गुब्बारों के धमाकों से मुख्यमंत्री मायावती अपनी सीट से उठकर चली गईं। विधानसभा मंडप में पहली बार काले गुब्बारे छोड़े जाने की घटना हुई। ऐसे माहौल में राज्यपाल टीवी राजेस्वर ने मात्र दो मिनट में अभिभाषण का केवल पहला व अंतिम वाक्य पढ़ा और औपचारिकता पूरी कर तुरंत सदन से बाहर चले गए। समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने बसपा सरकार के विरोध में नारेबाजी की और काले झंडे भी दिखाए।ड्ढr विधानसभा अध्यक्ष सुखदेव राजभर ने इसे अप्रत्याशित घटना करार देते नाराजगी जताई है। उन्होंने पूरे मामले की जाँच गृह विभाग से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अब जरूरत पड़ने पर विधायकों की तलाशी भी होगी। इस घटना को सदन की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा बताते हुए स्पीकर श्री राजभर ने कहा कि विधानसभा परिसर की सुरक्षा व्यवस्था अब वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ के अधीन रहेगी।ड्ढr विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं थी भाजपा: पृष्ठ 2 नाराज सीएम ने पूछा, क्या कर रही थी इंटेलीजेंस!ड्ढr लखनऊ (प्रसं)। विधानसभा के भीतर विधायक गैस भरे गुब्बारे लेकर कैसे पहुँचे? अभिसूचना तंत्र के लोग क्या कर रहे थे? उन्हें इसकी भनक तक क्यों नहीं लगी! यह सारे सवाल मुख्यमंत्री मायावती ने अधिकारियों से पूछे। मुख्यमंत्री ने स्पीकर के कक्ष में नाराजगी जताते हुए सुरक्षा बिंदुओं पर अधिकारियों को कसा। इसके बाद बैठक कर अफसरों ने तय किया कि विधान सभा परिसर की सुरक्षा इतनी कड़ी कर दी जाए कि कोई सदस्य गुब्बारे तो क्या इससे मिलती-जुलती भी चीज न ले जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सदन में फोड़े गए काले गुब्बारे