DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जम्मू-कश्मीर में हिमस्खलन से 18 मरे

ाम्मू और कश्मीर के कुलगाम जिले में हिमस्खलन से कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई। इसमें अनंतनाग जिले में एक ही परिवार के छह लोगों की भी मौत हो गई। इसके साथ ही कुलगाम और बांदीपुर में चार लोग इसकी चपेट में आकर मारे गए। हलांकि पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 32 ग्रामीणों को बचा लिया। जम्मू क्षेत्र के रामबन और उधमपुर में भी आठ लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने पुलिस कर्मचारियों और 4राष्ट्रीय राइफल के सैनिकों को पीर पंजाल पर्वत श्रंखला के तराई इलाके के एक गांव गुलाब बाग (गुज्जर बस्ती) में बचाव एवं राहत कार्य के लिए भेज दिया है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि लगातार बर्फबारी के कारण शून्य दृश्यता के बीच गांव के लिए राहत दल निकल गए।’ उन्होंने कहा कि मैं उनसे सुनने के इंतजार में हूं। यात्रा जोखिम से भरपूर थी, लेकिन हमारे पास खबर पहुंचने के बाद कोई चारा नहीं बचा था। अधिकारी ने बताया कि दो लोग और एक बच्चे की मौत गांव में हो गई है। पूरी घाटी में पिछले चार दिनों में हिमस्खलन और घरों के ढ़हने से 11 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि हमने तड़के गांव में 15-17 घरों के दबने की खबर कर दिया था। हमने अगर जरुरत पड़ी तो और भी राहत दल तैयार रखे हैं। जम्मू और कश्मीर के मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद की गुरुवार को बर्फ से घिरी घाटियों के दौरे पर जाने की योजना थी लेकिन, उन्होंने उपभोक्ता मामलों के मंत्री ताज मोहीउद्दीन को घाटी में ही रुककर राहत एवं बचाव कार्य की देखरेख करने का सुझाव दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जम्मू-कश्मीर में हिमस्खलन से 18 मरे