DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वनडे में होगा युवा टीम का पहला टेस्ट

पहले दो मैच धुलने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम एक बार फिर विश्व चैंपियन से भिड़ने को तैयार है। ऐसे में माही की युवा ब्रिगेड के लिए फिर परीक्षा की घड़ी आ गई है। हालांकि त्रिकोणीय वनडे अंतरराष्ट्रीय सीरीज में फिलहाल मध्य क्रम के कुछ बल्लेबाजों की फार्म भारत के लिए चिंता का सबब बन गई है। रविवार को भारत के साथ होने वाले मैच में मेजबान टीम के हौसले बेशक बुलंद होंगे। श्रीलंका पर शुक्रवार को 128 रन की शानदार जीत के बाद वह विजयी लय बरकरार रखना चाहेगी। बारिश से प्रभावित दो मैचों में भारतीय गेंदबाजों ने बेशक कुछ अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन बल्लेबाज अपने रंग में नहीं आ सके। वनडे विशेषज्ञ युवराज सिंह टेस्ट सीरीज से ही खराब दौर से गुजर रहे हैं जबकि विशेष रूप से वनडे बल्लेबाज के रूप में टीम में शामिल होने वाले रोहित शर्मा और रॉबिन उथप्पा जैसे कुछ अन्य युवा बल्लेबाज भी अभी टीम के लिए चिंताजनक बने हुए है। सबकी निगाहें फिर भी तो उन्हीं पर रहेंगी जिन्होंने सौरभ और राहुल जैसे अनुभवी खिलाड़ियों का स्थान लिया है। बल्लेबाजों के एक बार और नाकाम होने से टीम पर काफी दबाव बढ़ जाएगा जो टूर्नामेंट में भारत के लिए खतरनाक होगा। ऐसे में टीमों को सचिन और सहवाग की जोड़ी से धुआंधार शुरुआत की अपेक्षा होगी ताकि एमसीजी (मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड) पर बड़ा स्कोर खड़ा किया जा सके। ब्रिसबेन में श्रीलंका के खिलाफ 88 रन की पारी खेलने से पहले कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी भी अपने रंग में नहीं थे, आशा है उनकी लय बरकरार रहेगी। भारत को हर संभावित रन बनाना होगा और विपक्षी रन बचाना होगा। इसके साथ ही रन रेट बढ़ाने वाली हर साझेदारी अहम होगी। इस पिच पर अक्सर बड़े स्ट्रोक्स आसानी से नहीं लगते और भारतीयों पर सबकी नजरें गड़ी होंगी। ऐसे में भारत को काफी सावधानी से कल के श्रीलंका जैसी स्थिति तो दोहराने से बचना पड़ेगा। वैसे अधिकांश भारतीयों ने अभी तक बड़ा स्कोर खड़ा करने की दृढ़ इच्छाशक्ित का प्रदर्शन नहीं किया है। वैसे श्रीलंका के खिलाफ गंभीर-धोनी की 184 रन की साझेदारी से इसकी उम्मीद नजर आ रही है। इसके अलावा मैदान मंे फील्डिंग में भी भारतीय खिलाड़ियों को सावधानी बरतनी होगी। दूसरी ओर मेजबान टीम के पास बेहतरीन बैटिंग लाइन-अप है। इसके अलावा मैथ्यू हैडन की वापसी से उसकी धार में और पैनापन आएगा जो भारत के लिए हमेशा ही सिरदर्द साबित हुए हैं। साथ ही ऑस्ट्रेलिया एक जीत और एक ड्रॉ के साथ अंक तालिका में शीर्ष पर है। टीमें : ऑस्ट्रेलिया : रिकी पॉन्टिंग, मैथ्यू हैडन, एडम गिलक्रिस्ट, माइकल क्लार्क, माइक हसी, एंड्रयू साइमंड्स, जेम्स होप्स, ब्रेड हॉग, ब्रेट ली, नाथन ब्रेकन और मिचेल जॉनसन। भारत : विरेन्दर सहवाग, सचिन तेंदुलकर, गौतम गंभीर, रोहित शर्मा, युवराज सिंह, महेन्द्र सिंह धोनी, रॉबिन उथप्पा, अनिल कुंबले, इरफान पठान, हरभजन सिंह, इशांत शर्मा और एस. श्रीसंत।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वनडे में होगा युवा टीम का पहला टेस्ट