DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोसी महोत्सव में कलाकारों ने बांधा समां

रंगारंग समारोह के बीच दो दिवसीय कोसी महोत्सव की शुरूआत हुई और स्थानीय कलाकारों ने लोक नृत्य प्रस्तुत कर आगत अतिथियों सहित उपस्थित दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। मंच के सामने अभाविप की छात्राआें द्वारा बनाये गये रंगोली में उकेरे गये गणपति के चित्र और सजावट महोत्सव स्थल पर पहुंचते ही लोगों को अपनी आेर आकृष्ट किया। आनंद, प्रियंका, सोनी कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, खुशबू, सविता, स्मिता ने मिलकर रंगोली बनायी थी।ड्ढr ड्ढr विधायक संजीव कुमार झा ने अतिथियों का पाग और चादर देकर सम्मानित किया। आगत अतिथियों को जिलाधिकारी नर्मदेश्वर लाल ने स्वागत करते हुए कहा कि महोत्सव के आयोजन से लोगों को नयी ऊर्जा मिलती है। इस क्षेत्र की संस्कृति, भाषा, कलाआें को जीवित रखने के लिए महोत्सव का आयोजन जरूरी है। विलुप्त संस्कृति को बचाकर दुनियां के सामने लाऐंगे तभी कोसी महोत्सव की सार्थकता बरकरार रहेगी। समारोह में उपविकास आयुक्त चन्द्रमा सिंह, सदर एसडीआे गजानन मिश्र ने बूके प्रदान किया। गिरिधर कुमार श्रीवास्तव और जूही सिंह के नेतृत्व में रमेश झा महिला कॉलेज की छात्राआें ने प्रेरणा गीत गाकर लोगों को जागृत कर दिया।ड्ढr ड्ढr कोसी के विकास से ही होगा बिहार का विकास : नंदकिशोरड्ढr सहरसा (ए.प्र.)। कोसी का विकास किये बगैर बिहार के विकास की बात करना बेमानी होगी। राज्य के पर्यटन और पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने शनिवार को सहरसा स्टेडियम में दो दिवसीय कोसी महोत्सव का उद्घाटन करते हुए ये बातें कही। उन्होंने कहा कि राज्य में सत्तारूढ़ एनडीए की सरकार ने कोसी महोत्सव की परम्परा को पर्यटन विभाग के राजकीय कलैंण्डर में शामिल कर इस क्षेत्र की सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और पुरातात्विक महत्व को अक्षुण रखने का संकल्प लिया है। रंगारंग समारोह के बीच पर्यटन मंत्री ने जैसे ही दीप जलाकर 5वें कोसी महोत्सव का उद्घाटन किया सभा में मौजूद लोगों ने तालियां की गड़गड़ाहट के साथ स्वागत किया। उद्घाटन संबोधन में पर्यटन मंत्री ने घोषणा की कि कोसी क्षेत्र के ऐतिहासिक स्थल कारू स्थान के विकास के लिए पर्यटन विभाग राशि मुहैया कराएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोसी महोत्सव में कलाकारों ने बांधा समां