DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूरोप में भी भारतीय इत्र की खुशबू

भारत में पिछले एक साल में परफ्यूम का बाजार 40 फीसदी बढ़ा है। विदेशों में भी इसकी मांग तेजी से बढ़ रही है। अमेरिका, मध्य-पूर्व देश और अफ्रीका के बाद अब भारतीय परफ्यूम की मांग यूरोप में शुरू हो गई है। आज भारत सबसे बड़ा निर्यातक देश बन गया है। दुनिया की दूसरी बड़ी परफ्यूम उत्पादक कंपनी एलकॉम को यूरोप से करीब 12.5 मिलियन यूरो का ऑर्डर मिला है। इसका कारोबार दुनियाभर में 25 अरब डॉलर का है, वहीं भारत में यह करीब 00 करोड़ रुपए का है। यह 20 प्रतिशत की दर से सालाना विकास कर रहा है। एलकॉम के एमडी हंसराज मंघानी ने बताया कि परफ्यूम का प्रयोग कोई भी और हर दिन कर सकता है। इसके उपयोग से फील गुड फैक्टर होता है, जिससे व्यक्ित का आत्मविश्वास जगता है। उनकी कंपनी ने महज 400 रुपए में उत्तम परफ्यूम उपलब्ध कराई है, जिसका बाजार तेजी से बढ़ रहा है। अभी तक महंगे होने के कारण यह कुछ ही वगरे तक ही सीमित थी। उन्होंने बताया कि बाजार में अपने उत्पादों की बढ़ती मांग को देखते हुए कंपनी अपनी उत्पादन क्षमता को भी बढ़ाने जा रही है। इसके तहत कंपनी यूपी एसईजेड, नोएडा में अपना दूसरा प्लांट स्थापित करने की तैयारी कर रही है जो अनुमानित रूप से दुनिया की सबसे बड़ी परफ्यूम उत्पादन ईकाई होगी। मंघानी ने बताया कि यह प्लांट दिसंबर, 2008 तक बनकर तैयार हो जाएगा। इस प्लांट की उत्पादन क्षमता 4 लाख बोतल प्रतिदिन होगी, जो दुनिया के किसी भी उत्पादन ईकाई की सबसे अधिक क्षमता होगी। मंधानी के मुताबिक कंपनी का 30 फीसदी उत्पादन घरेलू मांग को पूरा करने में समर्थ होगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूरोप में भी भारतीय इत्र की खुशबू