अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भूखे पेट सोने वालों में तीन राज्य सबसे ऊपर

असम, पश्चिम बंगाल और उड़ीसा ये तीन राज्य ग्रामीण गरीबों के बीच भोजन की कमी की राष्ट्रीय सूची में सबसे ऊपर हैं। नेशनल सैंपल सर्वे संगठन ने अपनी ताजा सर्वे रिपोर्ट में कहा है कि पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक ऐसे ग्रामीण परिवार हैं जिनके सदस्यों को साल के कुछ निश्चित महीनों में पर्याप्त भोजन नहीं मिलता। असम में हालत और बदतर है, जहां अधिकतम संख्या ऐसे ग्रामीण परिवारों की है, जिनको पूरे साल पर्याप्त भोजन नहीं मिलता। सर्वे के अनुसार, पश्चिम बंगाल में 10.6 फीसदी ग्रामीण गरीबों को दिसंबर, जनवरी, फरवरी, मार्च और अप्रैल के महीनों में पर्याप्त भोजन नहीं मिलता। उड़ीसा में यह आंकड़ा 4.8 फीसदी का है। असम इस सूची में सबसे ऊपर है, जहां 3.6 फीसदी ग्रामीण परिवार पूरे साल पर्याप्त भोजन नहीं पाते। उड़ीसा व पश्चिम बंगाल में यह दर 1.3 फीसदी की है। हरियाणा और राजस्थान के ग्रामीणों की बाबत रिपोर्ट में कहा गया है कि वे पर्याप्त भोजन पाते हैं। भोजन की मौसमी कमी से सर्वाधिक प्रभावित खेत मजदूर व जनजातीय लोग होते हैं। इनके बाद प्रभावित होने वालों में अनुसूचित जाति के लोग हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भूखे पेट सोने वालों में तीन राज्य सबसे ऊपर