DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीस जिला परिवहन कार्यालयों में डीटीआे नहीं

राज्य के बीस जिला परिवहन कार्यालयों में डीटीओ नहीं है। इससे वाहन मालिकों के तो छक्के छूट ही रहे हैं। इस वित्तीय वर्ष में 350 करोड़ रुपये जुटाने में विभाग की भी सांस उखड़ गयी है। वाहनों की जांच, परमिट देने और कर वसूलीकर्ता अधिकारियों के 17पदों में 102 पहले से ही खाली थे। रही सही कसर बिप्रसे अधिकारियों के हाल में हुए तबादलों ने निकाल दी।ड्ढr ड्ढr बीस जिलों से डीटीओ तो गायब हुए लेकिन बदले में अधिकारी नहीं मिले। समस्या से उबरने के लिए विभाग ने नया फंडा अपनाया है। अब ‘जुगाड़ टेक्नोलॉजी’ के सहारे चलेगा कर वसूली का डंडा। चालू वित्तीय वर्ष में करीब 200 करोड़ रुपये जुटे हैं। मधुबनी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, बक्सर, जहानाबाद, अरवल, नालन्दा, लखीसराय, शेखपुरा, मुंगेर, मधेपुरा, किशनगंज, सहरसा, बेगूसराय, पूर्णिया, जमुई और सुपौल में कामचलाऊ डीटीओ तैनात करने की कवायद जारी है। एमवीआई के 67 में 51, प्रवर्तन पदाधिकारी के 5में से 41 और आरटीए सचिव के में से चार पद पहले से ही खाली हैं। गोपालगंज, कैमूर, पूर्णिया, नवादा, गया और बक्सर स्थित अंतर्राज्यीय चेकपोस्टों पर करारोपण पदाधिकारी तक नहीं जबकि जरूरत 18 पदाधिकारियों की है। परिवहन राज्यमंत्री अजीत कुमार कहते हैं, सभी पदों पर स्थाई पदाधिकारियों की तैनाती होगी। फिलहाल जिला प्रशासन के अधिकारियों को अतिरिक्त प्रभार देने की प्रक्रिया जारी है। ड्ढr एमवीआई के हुए ऑफ सीजन तबादले!ड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। परिवहन विभाग में हुए मोटर वाहन निरीक्षकों (एमवीआई) के ऑफ सीजन तबादले! मुंगेर, किशनगंज और कटिहार से महज दो माह पहले हटाए गए एमवीआई को पुन: उन्हीं जिलों की कमान सौंपी गयी है। यही नहीं दरभंगा के एमवीआई अब चार दूसरे जिलों की भी जिम्मेदारी संभालेंगे। नियमानुसार तबादले सिर्फ जून में होते हैं। वैसे इस बाबत विभाग का तर्क है कि एमवीआई का तबादला नहीं हुआ है बल्कि दो माह पूर्व विभागीय प्रमुख की इजाजत के बगैर हुए तबादलों को रद्द कर दिया गया है।ड्ढr ड्ढr विभाग द्वारा जारी आदेश के तहत मोतिहारी से चन्द्रशेखर पाण्डेय को मुंगेर, गया से राजेन्द्र प्रसाद को कटिहार और मुंगेर से पशुपतिनाथ उपाध्याय को किशनगंज का एमवीआई बनाया गया है। इसी प्रकार पूर्णिया के एमवीआई विनय शंकर तिवारी से किशनगंज और कटिहार का प्रभार वापस लेकर अररिया, औरंगाबाद के एमवीआई रघुवंश कुंवर से कैमूर और रोहतास का प्रभार वापस लेकर गया जबकि वैशाली के एमवीआई अमरनाथ सिंह से पटना का प्रभार वापस लेकर उन्हें मोतिहारी, बेतिया और मुजफ्फरपुर की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गयी है। भोजपुर के एमवीआई विपिनकांत तिवारी अब कैमूर और रोहतास की भी जिम्मेदारी संभालेंगे। दरभंगा के एमवीआई अजय कुमार को समस्तीपुर और मधुबनी के साथ सीतामढ़ी और शिवहर का भी अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीस जिला परिवहन कार्यालयों में डीटीआे नहीं