DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीए-आईपीएल के बीच गतिरोध समाप्त!

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया-सीए और इंडियन प्रीमियर लीग-आईपीएल के बीच गतिरोध आखिरकार समाप्त होता नजर आ रहा है। खबरों के अनुसार, उम्मीद की जा रही है कि पहले 20-20 मुकाबले के लिए 20 फरवरी को होने वाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की नीलामी के लिए खिलाड़ी आसानी से उपलब्ध होंगे। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दोनों पक्षों के बीच बातचीत में काफी प्रगति हुई है और मुंबई में 20 तारीख को होने वाली नीलामी के लिए रिकी पॉन्टिंग, ब्रेट ली और एंड्रयू सायमंड्स जैसे खिलाड़ी उपलब्ध रहेंगे। हालांकि सीए के दो प्रायोजकों-फॉस्टर और ट्रेवलैक्स के वैश्विक हितों को किसी तरह का नुकसान न पहुंचे, इस बारे में फिलहाल कोई फैसला नहीं हो पाया है। कहा जा रहा है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को उनके राज्य की ओर से खेलने या टूर्नामेंट के दौरान नेशनल ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेने के लिए आईपीएल द्वारा नहीं छोड़ने के मूल अनुबंध में लिखे नियम को हटा लिया गया है। अखबार द ऐज के अनुसार, इसके साथ ही सीए के वाणिज्यिक साझेदारों के साथ विभिन्न खिलाड़ियों को अनुबंधों की जिम्मेदारी से छुटकारा दिलाने के बारे में भी सकारात्मक प्रगति हुई है। रिपोर्ट के अनुसार, संशोधित अनुबंध, जो खिलाड़ियों को अभी देखना है, में विज्ञापन अनुबंधों को भारतीय बाजार तक ही सीमित कर दिया गया है। उदाहरण के लिए पॉन्टिंग और अन्य दो खिलाड़ी देश में सिर्फ भारतीय एयरलाइंन किंगफिशर ही प्रचार कर सकेंगे लेकिन ऑ्ट्रेलिया में नहीं। ऐसा इसलिए क्योंकि सीए की प्रायोजक है एमिरेत्स एयरलाइंस। अखबार के अनुसार, हालांकि इसके बावजूद एक प्रमुख मुद्दा बचा है जो आईपीएल में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के शामिल होने को अब भी बाधित कर सकता है, वो है सीए के दो प्रमुख प्रायोजकों, फॉस्टर और ट्रैवलेक्स के विश्वव्यापी हितों का संरक्षण।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीए-आईपीएल के बीच गतिरोध समाप्त!