अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धोनी बोले, बारिश ने हराया

श्रीलंका के खिलाफ 8 विकेट से हार का कारण टीम इंडिया के कप्तान बारिश को मानते हैं। धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘जब आपके सामने 154 (1ी जगह) का लक्ष्य हो तो आपकी एप्रोच बहुत बदल जाती है। एक टीम सिर्फ दो खिलाड़ियों को ही कैचिंग पोजीशन पर लगा सकती है और बाउंड्री रोकना मुश्किल होता है।’ धोनी ने कहा कि भारत की गेंदबाजी कमजोर नहीं थी बल्कि श्रीलंका के खिलाड़ियों ने रिस्क लिया और वे सफल रहे। उन्होंने कहा, ‘उनके ओपनर ज्यादातर समय मैदान गेंदों को मैदान के बाहर पहुंचाते रहे। तिलकरत्ने दिलशान ने अच्छी बल्लेबाजी की। उन्हें अच्छी शुरुआत मिली।’ उन्होंने कहा, ‘जब तक मैं यह सब समझ पाता तब तक वे 50 रन बना चुके थे और मैच हमारी पकड़ से बाहर हो गया था।’ टीम इंडिया की फील्डिंग में कुछ कमजोर लग रही थी। इस पर धोनी ने आउटफील्ड के गीला होने को दोषी बताया। उन्होंने कहा, ‘यह मैदान पर फील्डिंग आसान नहीं थी। मैदान गीला था और उस पर दौड़ लगाना मुश्किल था। इस सबके बावजूद हमारी फील्डिंग कमजोर नहीं थी।’ युवराज के बारे में धोनी ने कहा, ‘आप एक गेंद पर सेंचुरी नहीं बना सकते। इस टूर्नामेंट में युवराज बेशक असफल रहे हैं लेकिन आज की बात और थी। जब वे बैटिंग के लिए आए गेंदें ही कितनी बची थीं।’ उन्होंने युवा खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा, ‘मुझे खुशी है कि युवा खिलाड़ी रन बना रहे हैं और मौकों को लाभ उठा रहे हैं। भारत में जब युवा खिलाड़ी फेल होते हैं तो उन पर दबाव बढ़ जाता है। वे उसे नेगेटिव लेना शुरू कर देते हैं।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: धोनी बोले, बारिश ने हराया