अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द. एशिया में प्रतिमाह तीस लाख डॉलर भेज रहे हैं आतंकी

आतंकवादी संगठन अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए दक्षिण पूर्व एशिया में बैंकों और अनौपचारिक हस्तांतरण जैसे हवाला के माध्यम से प्रति माह तीस लाख डालर भेजते हैं। सुरक्षा विशेषज्ञों ने सोमवार को एक सेमिनार में कहा कि इस पर रोक लगाने के लिए बैंकों के माध्यम से होने वाले लेन-देन का पता लगाने की आवश्यकता है। इनसाइड अल कायदा के लेखक और सिंगापुर स्थित राजनीतिक हिंसा और आतंकवाद पर शोध के अंतरराष्ट्रीय केन्द्र के प्रमुख रोहान गुनारथा ने कहा कि हमलों को अंजाम देने के लिए आने वाले धन का पता लगाने के लिए सरकार और निजी सेक्टर के बीच भागीदारी की आवश्यकता महसूस की जा रही है। उन्होंने कहा कि दक्षिण पूर्व एशिया में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए प्रति माह कम से कम 20 से 30 लाख डॉलर भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि फिलीपींस के अबु सयाफ और इंडोनेशिया के जेमाह इस्लामिया जैसे संगठन इस धनराशि की व्यवस्था करते हैं और वे अपनी साजिशों को अंजाम देने के लिए उस राशि को पूरे क्षेत्र में भेजते हैं। गुनारथा ने बताया कि इन समूहों के पास धनराशि एकत्रित करने के चार स्रेत हैं जिनमें व्यक्ितगत दानदाता, चैरिटी, बैंक धोखाधड़ी व व्यापारी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि सिंगापुर सहित दक्षिण पूर्व एशिया में व्यापारिक गतिविधियां भी शुरू की गई। एंटी मंनी लांडरिंग एजेंसी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स के अध्यक्ष जेम्स सासून ने कहा कि लंदन न्यूयॉर्क और सिंगापुर जैसे अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केन्द्रों ने आतंकियों के लिए धन उपलब्ध कराने वालों को आकर्षित किया है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की गतिविधियों के लिए बहुत ही कम धन राशि की आवश्यकता पड़ती है। उन्होंने 11 सितंबर 2001 में अमेरिका पर हुए आतंकवादी हमले का उदाहरण देते हुए कहा कि अमेरिकी अधिकारियों ने इस हमले को अंजाम देने में चार से पांच लाख डालर की लागत आने का अनुमान व्यक्त किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: द. एशिया में प्रतिमाह तीस लाख डॉलर भेज रहे हैं आतंकी