DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘निमित्ज’ के ऊपर से उड़ा रूसी लड़ाकू विमान

अमेरिका यह आकलन करने का प्रयास कर रहा है कि उसके एक विमानवाही पोत के पास रूसी बमवर्षक विमानों का उड़ान भरना कहीं रूस के शीत युद्ध काल की मानसिकता में वापसी का संकेत तो नहीं है। उल्लेखनीय है कि गत नौ फरवरी को रूस के कुछ बमवर्षक विमानों ने दक्षिण जापान के पास खड़े अमेरिकी विमानवाही पोत ‘यूएसएस निमित्ज’ के नजदीक से उड़ान भरी। इनमें से एक रूसी विमान ने तो निमित्ज के ठीक ऊपर से उड़ान भरी। हालांकि विमानों को निमित्ज के पास से उड़ान भरता देख एक अमेरिकी लडाकू विमान ने उसका पीछा भी किया। अमेरिकी नौसेना अभियान के प्रमुख एडमिरल गैरी रौफहेड ने कहा कि यह घटना रूस की बढ़ती नौसैन्य ताकत को उजागर करती है। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद मुझे लगता है कि रूसी सेना या नौसेना फिर से एक वैश्विक ताकत के रूप में उभर रही है। हालांकि अमेरिकी सेना एवं नौसेना के अन्य अधिकारियों का मानना है कि रूसी विमानों का यूएसएस निमित्ज के पास से उड़ान भरना कोई उत्तेजक प्रवृत्ति नहीं थी। अमेरिकी सेना के शीर्ष अधिकारी जनरल जेम्स कार्टराइट ने कहा कि अमेरिका का रक्षा विभाग रूस की इस कार्रवाई का आकलन कर रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि रूस की यह कार्रवाई कहीं उसके शीतयुद्ध काल समय की मानसिकता में वापसी का संकेत तो नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘निमित्ज’ के ऊपर से उड़ा रूसी लड़ाकू विमान