DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कपिल देव पेंशन रोकने के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और दिग्गज क्रिकेटर कपिल देव ने अपना पेंशन रोके जाने के खिलाफ हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया (बीसीसीआई) ने कपिल देव के आईसीएल से जुड़ने के बाद नियमों में परिवर्तन कर पेंशन रोक दी है। बीसीसीआई ने वर्ष 2000 में रिटायर क्रिकेटरों के लिए पेंशन योजना लागू की थी। कपिल देव को उसी समय से पेंशन के साथ ही अन्य सुविधाएं मिलती रही थी। लेकिन अब अचानक पेंशन के साथ ही अन्य सुविधाएं भी बंद कर दी गई हैं। उन्होंने अपने हलफनामे में कहा कि उन्होंने देश के लिए 30 साल तक क्रिकेट खेला है। इसके बावजूद उन्हें इन सुविधाओं से वंचित किया जा रहा है। कपिल ने कहा कि उन्हें मानार्थ पास दिया जाना भी बंद कर दिया गया है। कपिल देव ने 131 टेस्ट मैच और 225 अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच खेले हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने 1ा वर्ल्ड कप जीता था। वे भारत के पहले गेंदबाज थे, जिन्होंने 400 विकेट लेने का रिकार्ड कायम किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कपिल देव पेंशन रोकने के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट