DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुनियादी क्षेत्र के छह उद्योगों की विकास दर 4 फीसदी

बुनियादी क्षेत्र के छह उद्योगों में कोयले को छोड़ कर शेष में दिसंबर 2007 के दौरान भारी गिरावट दर्ज की गई है। इस महीने इन उद्योगों का सम्मिलित विकास दर चार प्रतिशत रहा जबकि एक वर्ष पहले इसी महीने विकास दर नौ प्रतिशत रहा था। सरकार की तरफ से बुधवार को औद्योगिक विकास सूचकांक के आंकड़े जारी किए गए। औद्यौगिक विकास दर में आई कमी से यह साफ परिलक्षित होता है कि मांग की कमी के कारण इस क्षेत्र का उद्योगों की धीमी प्रगति रही। बुनियादी क्षेत्र छह उद्योगों में कच्चा तेल, रिफोइंड पेट्रोल, कोयला, बिजली, सीमेंट और तैयार इस्पात शामिल हैं। चालू वित्तीय वर्ष के दिसंबर 2007 में कोयले का विकास दर 8.4 प्रतिशत रहा जबकि एक साल पहले इसी महीने 2.प्रतिशत रहा था। इसी वर्ष अप्रैल से दिसंबर के दौरान वृद्धि दर 4.प्रतिशत रही जबकि एक वर्ष पहले इसी अवधि में 4.6 प्रतिशत रहेगी। कच्चा तेल उद्योग ने अप्रैल दिसंबर 2006-07 के 6 प्रतिशत की तुलना में 0.3 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की। इसी अवधि में पेट्रोलियम उत्पाद उद्योग ने 13.2 प्रतिशत की तुलना में 7.5 प्रतिशत, बिजली 7.5 प्रतिशत की तुलना में 6.6 प्रतिशत, तैयार इस्पात उद्योग की उत्पादन वृद्धि 11.4 प्रतिशत की तुलना में 5.6 प्रतिशत रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छह उद्योगों की विकास दर 4 फीसदी