अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश तोड़ने वालों को नहीं मिल सकती गद्दी : लालू

हम देश तोड़नेवालों को हस्तिनापुर की गद्दी पर नहीं देखना चाहते हैं। जब मस्जिदों में एकजुट होकर अजान पढ़ी गयी और मंदिरों में घंटे बजे तब जाकर देश को आजादी मिली है जिसे कुछ लोग सांप्रदायिकता के आधार पर बांटना चाहते हैं। हमें ऐसे लोगों से सावधान रहना है।ड्ढr ड्ढr उक्त बातें बुधवार को सरायगढ़-भपटियाही प्रखंड के छिटही हनुमान नगर स्थित मदरसा इस्लामियां अरबिया में आयोजित जलसा दस्तोरबंदी में शिरकत करते केन्द्रीय रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने कही । रेलमंत्री ने कहा कि यदि देश में शांति नहीं होगी तो देश का विकास नहीं होगा। जलसे में मौजूद इस्लाम धर्मावलंबियों की भारी भीड़ को देख उत्साहित दिख रहे लालू प्रसाद ने कहा कि हम भारत और पाकिस्तान को अलग नजरिए से नहीं देखते, जब जर्मनी एक हो सकती है तो भाारत-पाकिस्तान क्यों नहीं? जोश से लबरेज लालू प्रसाद ने कहा कि देश में चलायी जाने वाली हर योजना का 15 प्रतिशत हिस्सा अल्पसंख्यकों के विकास पर खर्च करने की नीति लागू करनी होगी। यूपीए सरकार को अल्पसंख्यकों की हितैषी बताते हुए रेलमंत्री ने कहा कि सच्चर कमीशन की रिपोर्ट को देश के 0 प्रतिशत मुस्लिम बहुल जिलों में लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि हमने अल्पसंख्यक आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया, उर्दू भाषा को हिन्दी की बहन होने का दर्जा दिलवाया। मुस्लिम लड़कियों के शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ा होने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए लालू प्रसाद ने कहा कि उनकी शिक्षा के लिए कस्तुरबा विद्यालय खोले गये हैं। अल्पसंख्यक छात्रों के लिए अल्पसंख्यक छात्रावास का निर्माण किया गया है।ड्ढr ड्ढr रेलमंत्री लालू प्रसाद ने कहा कि रेल विभाग में मदरसे की डिग्री को मान्यता देने पर विचार किया जा रहा है। लालू प्रसाद ने भाजपा पर चुटकी लेते हुए कहा कि कुछ लोग अभी से प्रधानमंत्री बन गये हैं, मिठाई खा रहे हैं लेकिन उनकी जन्म कुंडली में प्रधानमंत्री बनना लिखा ही नहीं है। श्री प्रसाद ने कहा कि मुझे लोग नटकिया कहते थे लेकिन जब रेल से मैंने 45 हजार करोड़ की आमदनी कर दी तो अब कहते हैं ये कैसे हो गया? उन्होंने लोगों से साम्प्रदायिक सद्भाव तथा भाईचारा बनाये रखने की अपील की। इस मौके पर राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शंकर प्रसाद टेकरीवाल, राजद के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल बारी सिद्दीकी, पूर्व सांसद सूर्य नारायण यादव, महेन्द्र सरदार, आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: देश तोड़ने वालों को नहीं मिल सकती गद्दी : लालू