DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योगदान को तीन दिन से भटक रहीं परिचारिकाएं

प्रमाण-पत्रों और उलझी प्रक्रिया के चक्कर में तीन दिनों से पीएमसीएच में योगदान करनेवाली 667 परिचारिकाएं भाग दौड़ लगाती रहीं । गुरुवार को पीएमसीएच और अधीक्षक कार्यालय का चक्कर काटते गुजर गया फिर भी योगदान नहीं हुआ।ड्ढr ड्ढr पीएमसीएच की नर्सिग सेवा में सुधार के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा 667 परिचारिकाओं की बहाली की गयी थी। सिविल सर्जन ने सभी परिचारिकाओं की सूची पीएमसीएच प्रशासन को उपलब्ध करा दी थी। इधर अस्पताल द्वारा स्वास्थ्य प्रमाण-पत्र, पहचान प्रमाण-पत्र, शैक्षणिक योग्यता, निबंधन प्रमाण-पत्र, कार्य, अवासीय एवं जातीय प्रमाण-पत्रों की मांग की गयी । इन प्रमाण-पत्रों के लिए उन्हें सिविल सर्जन और अधीक्षक कार्यालय की दौड़ लगानी पड़ रही थी। पीएमसीएच में दिन भर भटकने के बाद भी उनका योगदान नहीं हुआ। परिचारिकाओं का कहना था कि इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में सभी नव नियुक्त परिचारिकाओं का पत्र आते ही योगदान करा लिया गया। यहां तो जान बूझकर तंग किया जाता है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: योगदान को तीन दिन से भटक रहीं परिचारिकाएं