DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौ फीसदी विकास दर बनी रहेगी : पीएम

प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह ने भरोसा जताया है कि वैश्विक मंदी के बावजूद इस वर्ष भी प्रतिशत विकास दर का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा। भारतीय व्यापार एवं वाणिज्य महासंघ (फिक्की) के 80वें सालाना समारोह को संबोधित करते हुएप्रधानमंत्री ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में इस विकास दर को बनाये रखने की पूरी क्षमता मौजूद है। उन्होंने कहा कि आर्थिक प्रदर्शन की निरंतरता कृषि क्षेत्र की सेहत पर निर्भर करती है और मैं सरकार की प्रतिबद्धता को दुहराता हूं कि किसानों के लिए ऋण उपलब्धता की समस्या का समाधान कर दिया जाएगा। डा. सिंह ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता में मुद्रास्फीति पर अंकुश रखना शामिल है लेकिन मूल्य-बढ़ोत्तरी को सीमा रखने का यह अर्थ नहीं है कि इसके लिए विकास की कुर्बानी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार की कोशिश है कि उद्यमशीलता तथा सृजनशीलता के अनुकूल वातावरण को कायम रखा जाए जिससे कि विकास प्रक्रिया की गति को बाधा न पहुंचे और हम अपने राष्ट्रीय तथा सामाजिक लक्ष्य को हासिल कर सकें। प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य देखभाल तथा सार्वजनिक स्वास्थ्य की गुणवत्ता पर चिंता जताई और कहा कि हमें स्वास्थ्य प्रणाली विशेष रूप से सार्वजनिक अस्पतालों में सुधार करने की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की नीतियां आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने वाली हैं। उन्होंने कहा हमारी नीति का यह महत्वपूर्ण अंग है कि आर्थिक वृद्धि का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे तथा मुद्रा स्फीति नियंत्रण में रहे। मुद्रास्फीति पर लगाम कसने के लिए मंहगी ब्याज दर नीति की आलोचनाआें का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा-मैं जानता हूं कि आप में से कुछ लोगों को यह नीति रास नहीं आ रही है लेकिन मुद्रास्फीति एक विषमतापूर्ण कर है जो गरीबों को यादा चोट पहुंचाता है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने छह वर्गो में फिक्की पुरस्कारों का भी वितरण किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नौ फीसदी विकास दर बनी रहेगी : पीएम