अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनुबंध विवाद खत्म, आईपीएल में खेल सकेंगे ऑस्ट्रेलियाई : मोदी

क्रिकेट ऑस्ट्रलिया-सीए और इंडियन प्रीमियर लीग-आईपीएल के बीच विवाद खत्म हो गया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड-बीसीसीआई के उपाध्यक्ष और आईपीएल के अध्यक्ष ललित मोदी ने शुक्रवार को यहां क्रिकेट की वेबसाइट क्रिकइंफो को ये जानकारी देते हुए कहा कि सीए और लीग के अधिकारियों के बीच विवादास्पद अनुबंध मामला अब सुलझ गया है और इस 20-20 लीग में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों का खेलने का रास्ता भी साफ हो गया है। उन्होंने कहा, दो-तीन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने पहले ही आईपीएल के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। आशा है जल्दी ही और खिलाड़ी भी इसमें शामिल हो जाएंगे। बस अब उन खिलाड़ियों और उनके एजेंटों से संपर्क करना बाकी है। मूल रूप से सीए खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने की मंजूरी देने में इस लिए डर रहा था क्योंकि उसे लग रहा था कि इससे उसके टीम और लीग के प्रायोजकों के हितों के बीच टकराव पैदा हो सकता है। कप्तान रिकी पॉन्िंटग और ऑलराउंडर एंड्रयू सायमंड्स सहित कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने बोर्ड के कदम की सार्वजनिक तौर पर आलोचना की थी। साथ ही ब्रेट ली और माइक हसी के प्रबंधक नील मैक्सवेल ने बोर्ड को चेताया था कि अगर बोर्ड अपना फैसला नहीं बदलता तो खिलाड़ी आईपीएल में शामिल होने के लिए समय से पहले रिटायरमेंट ले सकते हैं। शोएब अख्तर आइपीएल में खेलेंगेड्ढr मुंबई (एजेंसियां)। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने शुक्रवार को सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि वह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की इंडियन प्रीमियम लीग में खेलने के लिए कटिबद्ध हैं। अख्तर ने यहां जारी एक विज्ञप्ति में कहा, ‘मैं डीएलएफ आईपीएल लीग खेलने के लिए कटिबद्ध हूं। नई ट्वेंटी 20 प्रतियोगिताआें को लेकर खिलाड़ियों के बारे में कई तरह की चर्चाएं हैं। लेकिन मैंने आईपीएल से करार कर लिया है और मैं होने वाली बोली प्रक्रिया को लेकर उत्साहित हूं।’ आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में पीसीबी के आजीवन प्रतिबंध लगाए जाने की आशंका के बारे में उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि वह पीसीबी का भरोसा फिर जीत लेंगे। शोएब ने इन खबरों को बकवास बताया जिनमें कहा गया था कि वह बोर्ड से मतभेद के चलते इंडियन प्रीमियर लीग से नहीं जुड़ सकते। खबरों के अनुसार इसलिए वह बागी इंडियन क्रिकेट लीग से करार कर सकते थे। उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने क्रिकेट करियर में हमेशा पाकिस्तान के लिए विकेट लेने को तरजीह दी है। मैंने हमेशा टीम को जिताने की कोशिश की है। उम्मीद है कि बोर्ड मुझे जल्द नया अनुबंध दे देगा। अख्तर के अनुसार उन्होंने हाल में आईपीएल प्रमुख ललित मोदी से कहा था कि वह इस उपक्रम में प्रमुख भूमिका निभाना चाहते हैं। अख्तर अगले सप्ताह भारत आने वाले हैं ताकि 20 फरवरी को होने जा रही बोली प्रक्रिया से पहले फ्रेंचाईजी से बात कर लें। शोएब ने कहा कि वह स्थानीय प्रशंसकों से मिलने और उनका ‘अपना’ खिलाड़ी बनने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। शोएब ने कहा, ‘भारतीय जनता जितना प्यार अपने क्रिकेटरों को देती है अगर उसका थोड़ा हिस्सा भी मैं हासिल कर पाया तो मेरे लिए बेइंतहा खुशी की बात होगी। अगले तीन वर्ष तक मैं जो मुझ से संभव है मैं यहां इस खेल को देने की कोशिश करूंगा।’ अख्तर की घरेलू प्रतियोगिता से छुट्टीड्ढr कराची (प्रे.ट्र.)। तेज गेंदबाज शोएब अख्तर की अनुशासनात्मक आधार पर घरेलू टूर्नामेंट से छुट्टी कर दी गयी है। इस सप्ताह पेंटानगुलर कप मैच में पंजाब के खिलाफ फेडरल एरियाज टीम की कप्तानी कर रहे शोएब ने १८ आेवर में एक भी विकेट नहीं मिलने पर इंतजाम के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की आलोचना की थी। उनकी नजर में यह एक बी ग्रेड मैच था। उन्होंने कहा था कि बोर्ड घटिया गेंदें देकर और बेजान पिच बनाकर क्रिकेट का हित नहीं कर रहा है। पहले ही एक बयान के लिए अनुशासनात्मक कार्रवा़ई का सामना कर रहे शोएब को अब फेडरल एरियाज टीम से हटा दिया गया है। टीम के एक अधिकारी ने बताया कि शोएब को हटाने और कप्तानी टेस्ट पेसर राव इफ्तिखार को सौंपने का फैसला काफी विचार विमर्श के बाद लिया गया है। उन्होंने कहा, ‘उन्होंने मैच के बाद बोर्ड की आलोचना कर आचार संहिता का उल्लंघन किया है। इसके अलावा वह अन्य खिलाड़ियों के साथ तालमेल बिठाने और उन्हें प्रोत्साहित करने में असफल रहे। उनका प्रदर्शन भी निराशाजनक था।’ सूत्रों के अनुसार पीसीबी के अध्यक्ष डा. नसीम अशरफ ने शोएब की बयानबाजी के लिए उन्हें फेडरल एरियाज टीम प्रबंधन से ड्राप करने के लिए कहा। सूत्रों ने कहा, ‘टीम प्रबंधन को पीसीबी अध्यक्ष की बात मानना लाजिमी था क्योंकि समूचे टूर्नामेंट और टीमों को बोर्ड द्वारा धन मुहैया कराया जाता है।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीए के साथ अनुबंध विवाद खत्म : मोदी