DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुर : सामुहिक दुष्कर्म के बाद बालिका की हत्या

ानुपर में एक नाबालिक बालिका के साथ सामुहिक दुष्कर्म के बाद आरपीएफ के तीन सिपाहियों समेत आठ लोगों ने बेरहमी से हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने एक जवान को गिरफ्तार कर लिया है जबकि अन्य अभियुक्तों की तलाश जारी है। पुलिस ने इस मामले को मजदूरों की आपसी रंजिश का परिणाम बताते हुए आरपीएफ के सिपाहियों को इससे क्लीन चिट दे दी है। एसएसपी आनंद स्वरूप ने बताया है कि राजेश का परिवार बिहार के मछोई का रहने वाला है और राज्य के ही अन्य मजूदरों के साथ झोपड़ी में रहता है। उन्होंने बताया है कि ये लोग रेलवे द्वारा किए जा रहे निर्माण कार्य में मजदूरी करते हैं। एसएसपी ने यह भी बताया कि राजेश को एक महीने पहले जेब कतरी के आरोप में जेल भेजा गया था, जबकि घर पर उसकी पत्नी सरिता, 12 वर्षीय बेटी सोनी और चार छोटे-छोटे बच्चे रहते थे। उन्होंने बताया कि सरिता जब कल घर पहुंची तो उसने अपनी बेटी सोनी को खून में लतपत पाया। सोनी को अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। लड़की की मां ने आरपीएफ के तीन सिपाहियों जेपी यादव, विनय राय, मनोज राय समेत आठ लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या का मामला दर्ज कराया है। सरिता के अनुसार इन लोगों ने उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म करने के बाद इर्ंट-पत्थरों से कुचल कर हत्या कर दी है। एसएसपी के अनुसार आरपीएफ के एक सिपाही को हिरासत में लेकर मेडिकल जांच के लिए भेजा जा चुका है। उनके अनुसार प्रारंभिक जांच के अनुसार अन्य बिहारी मजदूरों की उसके परिवार के साथ चल रही दुश्मनी के कारण ही लड़की की दुष्कर्म के बाद हत्या की गई है। ठेकेदार से इन मजदूरों की सूचना मांगकर जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कानपुर : सामुहिक दुष्कर्म के बाद बालिका की हत्या