DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देशमुख की उत्तर भारतीयों से वापस लौटने की अपील

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख ने उत्तर भारत के उन लोगों से मुंबई और राज्य के उन हिस्सों में वापस लौट आने की अपील की है जहां से वे वापस अपने वतन लौटने के लिए विवश हुए थे। गौरतलब है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे और उनके समर्थकों द्वारा उत्तर भारतीयों पर ढाए जा रहे जुल्मों-सितम से बिहार और उत्तर भारत के सैकड़ों लोग वापस अपने वतन लौटने के लिएविवश हुए हैं और यह प्रक्रिया अभी भी जारी है। बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों की घर वापसी तेज होने से राज्य के कई स्थानों पर फैक्िट्रयां और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों पर ताला जड़ने की नौबत आ गई है। विशेष रूप से बिहारियों के वापस लौटने से पुणे-नासिक औद्योगिक इलाके में कामगारों की भारी कमी महसूस की जा रही है। इससे इस क्षेत्र के औद्योगिक उत्पादन में लगातार कमी आती जा रही है। महज इस क्षेत्र से 30 हजार से अधिक प्रवासी मजदूरों की वतन वापसी शुरू हो गई है। प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 15 दिनों से जारी हिसा में सिर्फ इस क्षेत्र में 4 अरब रुपये का नुकसान हो चुका है। प्रवासी मजदूरों के जाने का सबसे बड़ा नुकसान श्रम की कीमत में बढ़ोत्तरी के रूप में सामने आया है जिससे सामानों की कीमत लगभग दोगुनी हो गई है। यहां के औद्योगिक संघ के अध्यक्ष अभय कुलकर्णी ने बताया कि आने वाले सप्ताहों में स्टील उत्पादों, इलेक्ट्रीकल उपकरणों और ऑटोमोबाइल के कल-पूजरे की कीमतें दोगुनी होने की संभावना है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उत्तर भारतीय लौटें, सुरक्षामिलेगी: देशमुख