अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘चेतक’ को रोटरी यूएवी में बदलेगा इजरायल!

इजरायल ने भारतीय नौसेना के पुराने पड़ चुके चेतक हेलीकॉप्टरों को मानवरहित हेलीकॉप्टर (रोटरी यूएवी) में बदलने की योजना तैयार कर ली है और अब वह नौसेना के आर्डर की प्रतीक्षा में है। यहां रक्षा प्रदर्शनी 08 में इस हेलीकॉ्प्टर का एक मॉडल भी प्रस्तुत किया गया है। दरअसल पिछले वर्ष नौसेनाध्यक्ष एडमिरल सुरीश मेहता ने हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लि. को एक पत्र लिख कर चेतक हेलीकॉप्टरों को मानव रहित हेलीकॉप्टर में बदलने की संभावना का पता लगाने के लिए कहा था। एचएएल ने इजरायल की एक कंपनी से बात की और अब दोनों मिलकर यह काम करने को तैयार हैं। यूं तो सेना के तीनों अंगों के पास इजरायल में ही बने सर्चर और हेरोन जैसे बड़े मानव रहित विमान हैं लेकिन इन्हें उड़ाने और जमीन पर लाने के लिए हवाई पट्टी की जरूरत होती है। नौसेना चाहती है कि उसके पास ऐसे मानव रहित हेलीकॉप्टर हों जिन्हें जंगी पोतों से उड़ाया और उतारा जा सके। इजरायल एयरक्राफ्ट इंडस्ट्रीज के सेल्स निदेशक एवी ब्लेसर ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि रोटरी यूएवी के तले में उपग्रह आधारित एक आइडेंटीफाइड राडार, इसके अगले भाग में कैमरे (ऑप्टिकल सेंसर) और पाश्र्व में सिग्नल इंटेलीजेंस संचार प्रणाली है। फिलहाल इस प्रणाली का एक अमेरिकी बेल-206 हेलीकॉप्टर पर परीक्षण किया गया है। ब्लेसर ने बताया कि इस तमाम प्रणालियों को किसी भी हेलीकॉप्टर में लगाया जा सकता है। रोटरी यूएवी की तमाम मुख्य प्रणालियां विकसित कर ली गई हैं और सरकारी स्तर पर फैसले के बाद हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लि. के साथ मिलकर इनका उत्पादन शुरू किया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘चेतक’ को रोटरी यूएवी में बदलेगा इजरायल!