DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू घूमे गांव-गांव, देहाती भूंजे का लिया मजा

रेलमंत्री लालू प्रसाद ने अपने पैतृक गांव फुलवरिया में प्रवास के दूसरे दिन जिले के गांवों में लाव-लश्कर के साथ घूमकर पुरानी यादों को ताजा किया और लोगों से रुक-रुक कर बातें कीं व हालचाल पूछा। शनिवार की सुबह लालू ने नवनिर्मित दुर्गा मंदिर में पूजा-अर्चना की। फिर आराम करने के बाद शाम को पूरे लाव-लश्कर के साथ निकल पड़े। गाड़ी माड़ीपुर बाजार पहुंची। उसके बाद सभी बथुआ बाजार की आेर चल पड़े। वहां से वे राजापुर बाजार होते हुए गोपालपुर गांव में पूर्व सांसद स्व. नगीना राय के घर पहुंचे। वहां परिजनों ने बताया कि सभी लोग पटना में हैं। इसी बीच उन्होंने टेलीफोन नंबर की मांग की। तब तक गांव वाले लालू जी को देखने उमड़ पड़े। कहीं से कुर्सी आई तो कहीं से बेंच। लालू सेमरा बाजार होते हुए बथना कुटी के लिए चल दिए। रास्ते में उन्होंने नरहवां बाजार में भूंजा खाया और दुकानदार को दस रुपये के बदले सौ का नोट थमा दिया। फिर वे एनएच पकड़कर सीधे गोपालगंज आए और यहां की सड़कों पर घूमते हुए थावे होकर पुन: फुलवरिया लौट गए। फुलवरिया में सोमवार को दुर्गा मंदिर का वार्षिकोत्सव समारोह होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लालू घूमे गांव-गांव, देहाती भूंजे का लिया मजा