DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उड़ीसा में 20 नक्सली ढेर, चार जवान शहीद

उड़ीसा के नयागढ़, गंजाम और कंधमाल जिले के जंगलों में शनिवार की देर रात से शुरू हुई जबरदस्त मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 20 नक्सलवादियों को मार गिराया। हालांकि मुठभेड़ करने वाले दल के तीन जवान भी शहीद हुए हैं। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसआेजी), केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल तथा एक अन्य सुरक्षा एजेंसी के जवानों ने गत शुक्रवार को विभिन्न पुलिस थानों, पुलिस प्रशिक्षण स्कूल तथा नयागढ़ के जिला शस्त्रागार पर नक्सलवादियों के हमले केबाद शुरू हुए अभियान के तहतयह कार्रवाई की है। गत शुक्रवार को नक्सलवादियों के हमले में 13 पुलिसकर्मियों समेत 14 लोगों की मौत हो गई थी।ड्ढr ड्ढr इस बाबत राज्य के गृह विभाग के सचिव तरुण कांति मिश्रा ने रविवार को बताया कि सुरक्षा बलों के साथ शनिवार की रात हुई मुठभेड़ में 20 नक्सली मारे गए हैं। उन्होंने हालांकि इसका विवरण देने से मना कर दिया। इस बीच प्राप्त रिपोटोर्ं के अनुसार नक्सलियों ने नयागढ़ से अपह्त की गई बस को शनिवार की रात आग के हवाले कर दिया। मिश्रा ने बताया कि कंधमाल जिले में गोसमा गांव की पहाड़ियों की तलहटी में घने जंगलों में 300 से अधिक नक्सली छिपे होने की सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने शनिवार की रात नक्सलियों को चारों तरफ से घेर लिया। मारे गए नक्सलियों में कुछ महिलाएं भी हैं। मिश्रा ने बताया कि नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में एसओजी के तीन जवान भी शहीद हुए हैं। वैसे सुरक्षा बलों को पहाड़ी पर चढ़कर उस आेर जाने में काफी दिक्कतें आ रही हैं। लेकिन नक्सलियों को चारों तरफ से आंध्र प्रदेश से आए विशेष दल ‘ग्रे हाउंड फोर्स’ की टुकड़ियां, सीआरपीएफ और एसआेजी समेत सुरक्षा बलों की 30 टुकड़ियां द्वारा घेर लिया गया है, जिसके बाद उनके सामने आत्मसमर्पण या मौत के अलावा तीसरा विकल्प नहीं है। इस बीच, उड़ीसा सरकार ने घोषणा की है कि नक्सलियों के खात्मे या गिरफ्तारी तक उनके खिलाफ सुरक्षा बलों का अभियान जारी रहेगा। पुलिस ने इस अभियान को ऑपरेशन अभिमन्यु नाम दिया है। वायुसेना के सहयोग से गंजाम की पहाड़ियों पर माओवादियों की धरपकड़ के लिए भी अभियान चलाया जा रहा है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की टीम भी उड़ीसा पहुंच चुकी है। लूटे गये हथियारों की गिनती उड़ीसा पुलिस ने पूरी कर ली है। इसमें अत्याधुनिक एके-47 की संख्या करीब 1100 है। 300 से ज्यादा इनसास राइफल है। दो लाख से अधिक कारतूस, वायरलेस सेट, मैकपेक, हैंड ग्रेनेड और करीब 4000 बुलेटप्रूफ जैकेट नक्सलियों के हाथ लगे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उड़ीसा में 20 नक्सली ढेर, चार जवान शहीद