अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपीएल के बावजूद टीम फोकस : पठान

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इरफान पठान ने इन आरोपों का खंडन किया है कि इंडियन प्रीमियर लीग की भारी बोली के कारण टीम इंडिया का ध्यान बंट रहा है। पठान ने कहा कि टीम पूरी तरह से फोकस है और श्रीलंका के खिलाफ मंगलवार को खेले जाने वाले त्रिकोणीय श्रंखला के मैच में पूरी ताकत से लौटेगी। टीम के खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में आईपीएल गवर्निग बाडी के दो सदस्यों के साथ बातचीत में लगे थे सो यह माना जा रहा है कि रविवार को खेले गए मैच में वे पूरी तरह फोकस नहीं थे और मैच हार गए। पठान ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया से मिली 50 रन की पराजय के बाद टीम ने आपसी विचार विमर्श किया है और उन क्षेत्रों में सुधार लाने का प्रयास किया है जिनके कारण हम मैच हारे हैं। उन्होंने कहा कि यह बैठक काफी उपयोगी थी। इसमें कमजोर पक्षों को पहचाना गया और उन्हें दूर करने के बारे में विचार हुआ। मुझे पूरा विश्वास है कि इसके सकारात्मक प्रतिफल कल के मैच में दिखेंगे। ज्ञातव्य है कि भारत 204 रन के मामूली लक्ष्य को भी हासिल नहीं कर पाया। इस हार से उनके फाइनल्स में क्वालिफाई करने के अवसरों पर असर पड़ सकता है। बड़ोदरा के इस गेंदबाज ने कल 41 रन देकर 4 विकेट लिए थे पर बल्लेबाजों के कमजोर प्रदर्शन के कारण उनका यह प्रदर्शन बेकार चला गया। पठान ने उम्मीद जताई कि कल के मैच में ऐसा नहीं होगा। पठान ने कहा कि जबकि टूर्नामेंट के मध्य में यह हो रहा है तो ठीक है। टीम अभी युवा है और खिलाड़ी इससे सबक लेंगे। एकदम से कोई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पांव नहीं जमा लेता। इसमें कुछ वक्त लगेगा। पठान ने इस बात से तो साफ तौर पर इंकार कर दिया कि टीम के कमजोर प्रदर्शन के पीछे खिलाड़ियों की लगन की कमी थी। उन्होंने कहा कि जब आप लिखते हैं तो अपने परिवार और दोस्तों के बारे में नहीं सोचते। ऐसे ही जब हम क्रिकेट खेलते हैं तो सिर्फ क्रिकेट खेलते हैं। पठान ने कहा कि मुझे किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी के लिए कहा जाए मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। मुझे पता था कि मुझे नम्बर तीन पर खेलना है क्योंकि टीम मैनेजमैंट ने पहले ही बता दिया था। यदि हम बड़े लक्ष्य का पीछा कर रहे होते तो तीन नम्बर पर मुझे अपने शाट्स खेलने होते। यदि लक्ष्य बड़ा होता तो मुझे एक बल्लेबाज की तरह खेलना होता। पठान ने कहा कि सहवाग से मैंने कल बात की थी और वे फिट हैं लेकिन मैं इस बारे में कुछ भी कहने का हकदार नहीं हूं। इसका निर्णय फिजियो और टीम मैनेजमैंट को लेना है। पठान ने कहा कि दबाव भारत पर ही नहीं है बल्कि श्रीलंका पर भी है। हमारे पास उनसे अधिक अंक हैं पर उन्होंने कहा कि श्रीलंका का आसान नहीं माना जा सकता। वे पिछले वर्ष ही विश्व कप फाइनलिस्ट रहे हैं। वह बहुत अच्छी टीम है। उन्होंने कहा कि गेंदबाज के रूप में मुझे खुशी है कि सीरीज में अभी तक हमने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। तीनों ही टीमों के गेंदबाजों ने स्तरीय गेंदबाजी की है पर बल्लेबाजों के बल्लों से रन कम निकले हैं। मुझे लगता है कि जल्दी ही उनके बल्ले भी रन उगलेंगे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईपीएल के बावजूद टीम फोकस : पठान