DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शो में न हो सका ‘पाक पीएम’ का चुनाव

तूफानी दौर से गुजर रहे पाक के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार कौन हो सकते हैं? इस सवाल का जवाब देने में पाक के चर्चित टीवी रियलिटी शो ‘इंटर द पीएम’ के जज एकमत नहीं हो सके। शो का अंतिम एपिसोड ‘नाइट-मार्च टू कांस्टीटय़ूशन एवेन्यू’ बीती रात डॉन न्यूज चैनल पर प्रसारित किया गया, जिसमें मानवाधिकार कार्यकर्ता अस्मा जहांगीर और एक रसायन कंपनी के प्रमुख असद उमर बतौर उम्मीदवार मौजूद थे। इन दोनों से 0 सेंकेंड के भीतर यह बताने को कहा गया कि यदि वे प्रधानमंत्री चुने जाते हैं तो पहले 100 दिनों के दौरान राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के साथ कैसा व्यवहार बरतेंगे। उमर ने कहा कि वह राष्ट्रपति मुशर्रफ के साथ काम करने के इच्छुक नहीं हैं और वह उनके राष्ट्रपतित्व की वैधानिकता का सवाल उठाएंगे।अस्मा का जवाब था कि वह मौजूदा राष्ट्रपति को नहीं चाहेंगी। उनके मुताबिक, राष्ट्रपति संसद का समर्थन नहीं पा सकते। दोनों उम्मीदवार आपातकाल के पूर्व की न्यायपालिका को बहाल करने के पक्ष में थे। शो के दौरान सेना की समस्या पर भी बात हुई। प्रधानमंत्री पद के ये दिखावटी उम्मीदवार छह प्रसिद्ध न्यायाधीशों की जूरी से घिरे थे। दोनों उम्मीदवारों की बातों से माहौल में काफी गर्माहट आ गई। लेकिन दो घंटे का यह फाइनल एपिसोड आखिर मेंअराजक-सी स्थितियों में समाप्त हुआ। मेजबान ने जजों को अपना फैसला सुनाने के लिए पर्याप्त समय नहीं दिया। जज तीन-तीन की बराबरी पर थे। शो के लिए करीब एक हजार लोगों से अपील की गई थी,पर सिर्फ 16 लोग टीवी पर इस बहस में शामिल हुए। डॉन न्यूज चैनल के समाचार निदेशक अजहर अब्बास ने कहा कि उनका इरादा जनता को शामिल कर बहस शुरू करने का था। लेकिन जिस कदर यह शो अपनी मंजिल पर पहुंचा, उसके मद्देनजर अस्मा का यह कहना बिल्कुल उचित रहा कि यह पाकिस्तान है, यहां हमेशा भ्रम बनता है। गठबंधन सरकार की भविष्यवाणी : एक पाकिस्तानी टैरो कार्ड रीडर ने कहा है कि पीपीपी और पीएमएमल-एन मिल कर कुछ समय के लिए केंद्र में गठबंधन सरकार बनाएंगे। इससे पहले पिछले साल बेगम शगुफ्ता अनवर नामक इस टैरो कार्ड रीडर ने राष्ट्रपति मुशर्रफ के दोबारा चुने जाने और आम चुनाव के स्थगन की भविष्यवाणी की थी और सुर्खियों में आ गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शो में न हो सका ‘पाक पीएम’ का चुनाव