DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रखंडों में बन रहे हाईटेक भवन

सूबे में बनने वाले मॉडल प्रखण्ड भवनों की उन्नत तकनीक को आम जन तक पहुंचाने की तैयारी है। यह पहला मौका है जब प्रखण्ड स्तर पर हाईटेक और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के भवन का निर्माण हो रहा है। उन्नत तकनीक के जरिए भवनों को बनाया जाना है। ग्रामीण विकास विभाग का मानना है कि भवन निर्माण की इस तकनीक से ग्रामीण भी रू-ब-रू होंगे और उन्हें भी आवासों के निर्माण में इसका लाभ मिलेगा।ड्ढr ड्ढr सूत्रों के अनुसार विभाग ऐसी व्यवस्था भी करेगा जिससे ग्रामीणों को इस तकनीक के बारे में बताया जा सके। भवन निर्माण में जिन मजदूरों और कारीगरों को लगाया जाएगा उन्हें भी इस तकनीक की बारीकियां बतायी और समझायी जाएंगी, जिससे भविष्य में भवनों के निर्माण में उन्हें लाभ होगा। कुल 122 नए प्रखण्ड भवनों का निर्माण होना है। भवन के परिसर में पेड़ लगाए जाएंगे। औषधीय गुणों से भरपूर तरह-तरह के पेड़-पौधे होंगे।ड्ढr ड्ढr विभाग के अधिकारियों के अनुसार भवन की दीवार से लेकर परिसर तक में सब कुछ नया होगा। बिजली की वायरिंग और स्विच तक आधुनिक और उन्नत होंगे। सरकारी भवनों में शायद ही इससे पहले इस तरह की तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। इसके लिए आउटसोर्सिग की जा रही है। आ*++++++++++++++++++++++++++++र्* टेक्टर और मिट्टी जांच और सर्वे तक में बाहर से सहयोग लिया जा रहा है। दीवारों पर लगाए जाने वाले पेंट भी भिन्न होंगे। अधिकारियों के अनुसार ग्रामीण स्तर पर लोगों को इसका लाभ मिलेगा। इंदिरा आवास के लाभार्थी भी इस तकनीक से काफी कुछ सीख कर आवासों के निर्माण में इसका प्रयोग कर सकते हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रखंडों में बन रहे हाईटेक भवन