DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कड़ी सुरक्षा व खौफ के बीच हुई पाक में वोटिंग

हिंसा की घटनाओं के बीच पाकिस्तान में नौवां आम चुनाव के तहत कड़ी सुरक्षा और विदेशी पर्यवेक्षक की मौजूदगी में सोमवार को संपन्न हो गया। हालांकि इस दौरान विभिन्न स्थानों पर हुई हिंसा में 14 लोगों के मारे जाने तथा 100 के घायल होने की खबर है। कड़ी सुरक्षा और विदेशी पर्यवेक्षको की मौजूदगी में हुए चुनाव का प्रतिशत करीब काफी कम रहा। पाकिस्तान के चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि देश में 35 प्रतिशत मतदान हुआ है।ड्ढr ड्ढr आयोग के अध्यक्ष काजी मोहम्मद फारूख ने चुनाव को संतोषजनक करार दिया है। पाकिस्तान के गड़बड़ी वाले स्वात घाटी इलाके में तीन धमाको की खबर है लेकिन इसमे किसी के जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है जबकि बाजौड के खारा कस्बे में एक मतदान को निशाना बनाते हुए धमाका किया गया। हालांकि पाकिस्तान के सूबा ए सरहद और रावलपिंडी के आसपास मतदान फीका रहा। पाकिस्तान के विशेषज्ञों का कहना है कि इन चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलने की उम्मीद कम है लेकिन दो पार्टिया मिलकर सरकार बना सकती है। पाकिस्तान में इस चुनाव में 80 हजार सुरक्षा बलों को तैनात किया गया था। इस बीच पाकिस्तान में मतगणना का काम शुरू हो गया है। देर रात तक रूझान और कल सुबह तक नतीजे आने की उम्मीद है।ड्ढr ड्ढr स्थानीय समयानुसार सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ। 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में से 272 सदस्यों के निर्वाचन तथा चार प्रांतीय असेंबलियों की 540 सदस्यों के निर्वाचन के लिए सैनिक शाासन से तंग आ चुके लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। उनमें से 30 प्रतिशत से अधिक को संवेदनशील और 14 प्रतिशत को अति संवेदनशील घोषित किया गया है। अफगानिस्तान सीमा पर कबायली इलाके के सभी 1122 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील घोषित कर दिया गया था। चुनाव में 7200 उम्मीदवार अपने राजनीतिक भाग्य आजमा रहे हैं। ये सभी नेशनल असेंबली की 272 सीटों और प्रांतीय असेंबलियों की 570 सीटों के लिए चुनाव मैदान में हैं। विभिन्न कारणों से नेशनल असेंबली की तीन सीटों और प्रांतीय असेंबलियों की सात सीटों पर चुनाव स्थगित कर दिया गया है।ड्ढr ड्ढr नेशनल असेंबली की 342 सीटों में से 60 महिलाआें के लिए और 10 गैर मुस्लिम के लिए आरक्षित हैं। इन सीटों पर चुनाव में जीतने वाले दलों को मत प्रतिशत के आधार पर आवंटित की जाती है। शेष बची 272 सीटों में से पंजाब 148, सिंध 61, पश्चिमोत्तर सीमांत प्रांत 35, बलूचिस्तान 14 सीट, 12 संघ शासित कबीलाई तथा दो राजधानी इस्लामाबाद में है। पाकिस्तान में 18 वर्ष के लोग मतदान करने के हकदार है। यह चुनाव गत आठ जनवरी को होना था। लेकिन गत 27 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की रावलपिंडी में एक चुनावी सभा को संबोधित कर बाहर निकलने के दौरान आत्मघाती हमले में हत्या कर दिए जाने के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। इस बीच पाकिस्तान के उत्तर पश्चिमी सीमांत प्रांत के कुछ हिस्सों में महिलाआें के मताधिकार पर रोक लगा दी गई। राज्य के पेशावर, मियांवाली और सरगोधा के कुछ हिस्सों में बुजुगर्ों की सलाह पर 60 साल पुरानी परंपरा को लागू करते हुए महिलाआें को वोट डालने से रोक दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कड़ी सुरक्षा व खौफ के बीच हुई पाक में वोटिंग