DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नी-बेटी को बर्थडे गिफ्ट कभी नहीं भूलेंगे मुशर्रफ

पाक राष्ट्रपति मुशर्रफ के लिए 18 फरवरी 2008 की तारीख भूलना आसान नहीं रह गया है। इस दिन उनकी पत्नी और बेटी का जन्मदिन था और पिछले महीने मजाकिया लहजे में उन्होंने टिप्पणी की थी कि उसी तारीख को हो रहा देश का आम चुनाव उन दोनों के लिए जन्मदिन का उपहार होगा। मुशर्रफ समर्थित पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग- कायदे आजम (पीएमएल-क्यू) सोमवार को हुए चुनाव के नतीजे मंगलवार को आने पर धूल-धुसरित हो गयी है। मुशर्रफ के लिए यह सबसे बड़ा सदमा है। अंतरराष्ट्रीय मीडिया से पिछले महीने मुखातिब मुशर्रफ ने कहा था कि 18 फरवरी का चुनाव उनकी पत्नी सहबा और बेटी आयला- दोनों के लिए बर्थडे गिफ्ट होगा। उन्होंने कहा था ‘बेनजीर भुट्टो की हत्या के बाद उत्पन्न अस्थिरता के माहौल के बावजूद हम फिर चुनाव जीतेंगे।’ अब शायद बर्थ डे गिफ्ट ने खुद मुशर्रफ पर पलटकर वार कर दिया लेकिन पाकिस्तानी अब ‘राजा के लोगों’ के पतन का उत्सव मना रहे हैं और अब ‘पराजा’ के निष्कासन का इंतजार कर रहे हैं। इस आम चुनाव में पहली बार वोट डालनेवाली विश्वविद्यालय की छात्रा मेहरीन सईद कहती हैं ‘वोटरों ने अपना फैसला सुना है। जनमत से साफ है कि लोग पीएमएल-क्यू और मुशर्रफ को बिल्कुल पसंद नहीं करते।’ अमेरिकी चुनावों का हवाला देते हुए सईद कहती हैं ‘पाक अवाम के लिए आज का दिन सुपर टयूजडे’ है। कानोकान चुनाव नतीजों की खबर मिलते ही जिन्ना सुपर मार्केट में फूलों का काम काफी बढ़ गया और माली के पास सांस लेने तक की फुरसत नहीं है। माली का काम करनेवाले साद कहते हैं ‘यह तो अल्लाह का शुक्र है। हम आशा करते हैं कि नई सरकार गरीबों के लिए सोचेगी और हमारी समस्याआें को सुलझाने की पहल करेगी।’ नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पीएमएल-एन) के पक्ष में वोट डालनेवाले टैक्सी ड्राईवर शान ने कहा ‘यह मतदान न्यायपालिका और मीडिया को दबाने के खिलाफ जनमत सवेक्षण है। यह उस संकट के खिलाफ भी फैसला है जो हमने पिछले पांच सालों में झेला है।’ साईबर कैफे में देश के ब्लॉगर सोमवार रात से ही इस ‘अच्छी खबर’ को प्रसारित करने में बेहद व्यस्त हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पत्नी-बेटी को बर्थडे गिफ्ट नहीं भूलेंगे मुशर्रफ