अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एटमी करार पर शीघ्र फैसला करे भारत : कैरी

अमेरिका के तीन वरिष्ठ सीनेटरों ने बुधवार को भारत को आगाह किया कि असैन्य परमाणु सहयोग समझौते को अमल में लाने का समय बीता जा रहा है तथा इसे हर हाल में मई महीने के पहले अमेरिकी कांग्रेस के समक्ष पेश कर दिया जाना चाहिए। अमेरिकी सीनेट की विदेश मामलों की समिति के अघ्यक्ष डेमोक्रेट जोसेफ आर बीडेन और सीनेटर जॉन कैरी तथा रिपब्लिकन सीनेटर चुक हैगल ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत को सभी औपचारिकताएं पूरी कर इस समझौते को मई के पहले अमेरिकी कांग्रेस को भेज देना चाहिए। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि इस समझौते को जुलाई महीने तक कांग्रेस की सहमति नहीं मिली तो अमेरिका के नए राष्ट्रपति समझौते पर नए सिरे से बातचीत शुरू कर सकते हैं। सीनेटर बीडेन ने कहा समय बीता जा रहा है। यदि समय रहते यह समझौता स्वीकृति के लिए अमेरिकी कांग्रेस में पेश नहीं किया गया तो नए राष्ट्रपति मौजूदा रूप में समझौते की पेशकश नहीं करेंगे। हमें पूरे समझौते पर नए सिरे से बातचीत करनी होगी । सीनेटर कैरी ने कहा कि समझौता मई तक कांग्रेस को मिल जाना चाहिए ताकि इसे जुलाई तक मंजूरी दी जा सके। पाकिस्तान में चुनावों की जानकारी हासिल करने के बाद नई दिल्ली पहुंचे इन तीनों सीनेटरों ने बुधवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एम के नारायणन से विशेष रूप से परमाणु समझौते पर विचार विमर्श किया। बातचीत में पाकिस्तान और अफगानिस्तान के घटनाक्रम पर भी चर्चा हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एटमी करार पर शीघ्र फैसला करे भारत : कैरी