अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छत्तीसगढ़ में भी गैर प्रदेशीय मुद्दा भड़का

महाराष्ट्र की गैर-मराठी की तरह छत्तीसगढ़ में भी गैर छत्तीसगढ़ियां का मुद्दा भड़क गया। राज्य की राजधानी रायपुर में स्थित प्रदेश की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय में बाहरी लोगों की नियुक्ित के विरोध में गुरुवार को छात्रों के साथ युवक कांग्रेस और एनएसयूआई ने न केवल जबर्दस्त हंगामा किया बल्कि कैम्पस में भी तोड़फोड़ की। यह मामला शुक्रवार को विधानसभा में भी गूंजा। विवि में प्रोफसर, रीडर और लेक्चरर की नियुक्ित के लिए साक्षात्कार चल रहा है। अभी नियुक्ित होने में समय लगेगा। मगर इससे पहले ही विवि के प्रॉक्टर विभूति राय के कक्ष में जमकर तोड़फोड़ की गई। राय पिटते-पिटते बचे। पुलिस ने प्रदर्शकारियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। प्रदेश युकां अध्यक्ष योगेश तिवारी का कहना है कि कुलपति स्थानीय लोगों की उपेक्षा कर बाहरी लोगों को विवि में नियुक्ित कर रहे हैं। उधर, कुलपति लक्ष्मण चतुर्वेदी ने आरोप को निराधार बताते हुए कहा कि अभी किसी की नियुक्ित ही नहीं हुई है। कुछ लोग नहीं चाहते कि विवि के पठन-पाठन में कड़ाई हो। दिलचस्प बात यह है कि मुंबई कांड का विरोध करने वाली कांग्रेस यहां युकां और एनएसयूआई के साथ खुलकर आ गई है। पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक सत्यनारायण शर्मा ने गुरुवार को जेल के सामने गिरफ्तार युकांइयों को रिहा करने के लिए धरना दिया। शर्मा का कहना है कि विवि में योग्यता को प्राथमिकता मिलनी चाहिए। बाहरी लोगों की नियुक्ित के विरोध में शुक्रवार को शर्मा के साथ पार्टी के कुछ और विधायक आ गए। धरना और प्रदर्शन अभी जारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छत्तीसगढ़ में भी गैर प्रदेशीय मुद्दा भड़का