अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धृतराष्ट्र नही हूं, सब कुछ देख रहा हूं

मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने यह मानने से इनकार किया है कि वह धृतराष्ट्र हैं। उनका कहना है कि समाचार पत्रों में जिस तरह से दो अधिकारियों के आरोप-प्रत्यारोप छप रहे हैं, उसके प्रमाण होने चाहिए। किसी विषय को समाचार पत्रों और बाजार में उछालना अनुशासनहीनता के दायरे में आता है। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन के बयानों पर मुख्यमंत्री कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं करना चाहते। उनका मानना है कि राज्य की यूपीए सरकार तेजी से विकास व जनहित के काम कर रही है, बस वह इतना भर जानते हैं। मुख्यमंत्री 22 फरवरी को प्रोजेक्ट भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष में हिन्दुस्तान के साथ पूरे मामले पर बातचीत कर रहे थे।ड्ढr राज्य में जिस तरह से दो अधिकारी लड़ रहे हैं। यह झारखंड के कितना हित में है?ड्ढr समाचार पत्रों के माध्यम से जो भी आरोप-प्रत्यारोप लगाये जा रहे हैं उसक ो प्रमाणित करना भी जरूरी है। किसी विषय को समाचार पत्रों में ले जाना, बाजार में उछालना, अनुशासनहीनता के दायरे में आता है। मैं मुख्य सचिव पीपी शर्मा और सीआइडी के आइजी अमिताभ चौधरी के मामले को देख रहा हूं। पूरी जानकारी लेने के बाद कार्रवाई होगी।ड्ढr यह मांग की जाने लगी है कि दोनों अधिकारियों को पदमुक्त करने के बाद जांच हो, ताकि वह निष्पक्ष हो सके।ड्ढr अभी हमारे पास कोई संचिका नहीं आयी है। कार्मिक और गृह विभाग से मैं जानकारी ले रहा हूं। कार्मिक व गृह विभाग मैं ही देखता हूं। जांच होगी। केवल आरोप लगा देने से एक्शन संभव नहीं है। सत्यता की जांच जरूरी है।ड्ढr अमिताभ चौधरी के विरुद्ध को डीजीपी और गृह सचिव ने भी कार्रवाई की अनुशंसा कर दी है ?ड्ढr ठीक है। अनुशंसा कर दिये हैं तो फैसला मुझे ही लेना है। मेरे पास संचिका आती है तो मैं फैसला करूंगा।ड्ढr आप कहते हैं कि जानकारी नहीं, लेकिन पिछले चार दिनों से यह मामला समाचार पत्रों में उछल रहा है। आरोप लग रहा है कि मुख्यमंत्री धृतराष्ट्र बन गये हैं। किसी विषय को गंभीरता से नहीं लेते।ड्ढr ऐसी बात नहीं है। मैं पूरे मामले को देख रहा हूं जांच के बाद कार्रवाई होगी।ड्ढr किस तरह की जांच, इस मामले में राज्य सरकार का कौन अधिकारी निष्पक्ष जांच कर सकेगा?ड्ढr अधिकारी के उच्च पदों पर रहने से जांच में कोई बाधा नहीं पड़ती। इस तरह के मामलों की जांच होती है। पहले भी हुआ है।ड्ढr चुटिया थाना क्षेत्र में एक डीएसपी ने 15 दिनों तक होटल पर कब्जा जमाये रखा। थाने को खाली कराने की हिम्मत नहीं हुई। क्या इससे सरकार की छवि धूमिल नहीं हुई? जब तक कोई शिकायत नहीं करेगा, अपनी आपत्ति दर्ज नहीं करायेगा, तब तक उन्हें इसकी कैसे जानकारी मिलेगी। इस तरह के विषयों की जानकारी मिलने पर जरूर कार्रवाई होगी।ड्ढr आइजी निर्मल अमिताभ चौधरी के मामले में सरकार क्या कार्रवाई कर रही है?ड्ढr रात में जानकारी मिलने पर मैंने उनके सभी बॉडी गार्डो को निलंबित कर दिया है। डीजीपी की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।ड्ढr कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन ने फिर दुहराया है कि कांग्रेस समर्थन वापस लेगी। इस पर आप क्या कहना चाहेंगे? ड्ढr माकन के संबंध में मुझे कुछ नहीं कहना। मेरी सरकार अच्छा काम कर रही है। बड़े-बड़े फैसले लिये गये हैं। 30 वर्षो के बाद नगर निकाय चुनाव कराया जाना यूपीए सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है। एनोस एक्का और नियेल तिर्की, दोनों से मैंने बात की है। दोनों ने कठिनाइयों को समझा है। मैं चाहता हूं कि दोनों के बीच बातचीत करा कर समस्या का समाधान करा दूं। यही राज्यहित में है। राज्य के विकास में एमपी, एमलए और मंत्री सबको मिल कर काम करने की जरूरत है। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: धृतराष्ट्र नही हूं, सब कुछ देख रहा हूं