अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्यार से कहना धन्य निरंकार..

अरगोड़ा, बुधविहार स्थित संत निरंकारी मिशन भवन में 23 फरवरी को संत हरदेव सिंह जी का जन्मोत्सव गुरु दिवस के रूप में मनाया गया। इसमें दिल्ली से आये महात्मा संत विवेक मौजी जी सहित बड़ी संख्या में अनुयायियों ने अपनी भागीदारी निभायी। कार्यक्रम की शुरुआत अपराह्न् दो बजे सेवा दल रैली से हुई।ड्ढr दल के सदस्यों ने खेलकूद सहित ड्रील व पीटी का बेहतरीन प्रदर्शन किया। इसके बाद शाम पांच बजे से विवेक जी के सानिध्य में सत्संग का आयोजन किया गया। इस बीच गुरु गद्दी में विराजमान विवेक मौजी ने उपस्थित भक्तों को अपना आशीर्वचन प्रदान करते हुए गुरु महिमा गायी। उन्होंने कहा कि सदगुरु भाव होता है, जो संसारिक कमर्ो का निर्वाह करते हुए परमात्मा से जुड़ने का मार्ग बताता है। उन्होंने कहा कि हमें हर पल सदरु के उपदेश को धारण करते हुए एक निरंकार से जुड़ने का प्रयास कराना चाहिए। मौके पर एके सूद सहित कई भक्तों ने गुरु भक्ित में अपने उदगार व्यक्त करते हुए सदगुरु की महिमा गायी। साथ ही नवदंपति वंदना एवं करणवीर को श्री मौजी जी ने आशीर्वाद दिया। कई उपस्थित भक्तों ने शादी की सालगीरह के अवसर पर सत्संग में भाग लेते हुए सदगुरु के श्रीचरणों में माथा टेका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्यार से कहना धन्य निरंकार..