DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाजवादी चिंतनधारा के स्तंभ थे श्रीकृष्ण सिंह: डा. अनिल

महान स्वतंत्रता सेनानी व प्रख्यात समाजवादी नेता श्रीकृष्ण सिंह समाजवादी चिंतनधारा की राजनीति के प्रमुख स्तंभों में एक थे। वे जीवन भर वंचित समाज के लोगों के लिए लड़ाई लड़ी। श्रीकृष्ण की 87 वीं जयंती समारोह के उद्घाटन भाषण में रविवार को विज्ञान व प्रावैधिकी मंत्री डा. अनिल कुमार ने उन्हें राष्ट्र का पुरखा बताया। इस अवसर पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा कि श्री सिंह महान स्वतंत्रता सेनानी थे।ड्ढr ड्ढr इन्होंने कहा कि श्री सिंह आचार्य नरेंद्र देव, अच्युत पटवर्धन, जयप्रकाश नारायण, डा. राम मनोहर लोहिया की विचारधारा की राजनीति के प्रमुख संगठनकर्ता थे। इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री संजय पासवान ने कहा कि श्रीकृष्ण सिंह उस समाजवादी आंदोलन के सर्जक थे, जहां दलितों को सामाजिक व राजनीतिक व्यवस्था में जगह मिली। विधायक क्लब में श्री श्रीकृष्ण सिंह जयंती समारोह तैयारी समिति के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में पूर्व केंद्रीय मंत्री दशई चौधरी, चंदेश्वर प्रसाद सिंह गौतम, पूर्व सांसद ब्रह्मदेव शास्त्री, विधायक डा. आर आर कनौजिया, अनिल कुमार, आेमप्रकाश पासवान, अभय सिंह, उदय शंकर सिंह, विजया सिंह, अजय कुमार घोष, विभूजी, महमूद आलम, रामलखन स्वर्णकार, महेंद्र मालाकार, धनंजय कुमार सिंह आदि शामिल थे। समारोह की अध्यक्षता प्रदेश जदयू उपाध्यक्ष रामनरेश सिंह व संचालन सचिव रामईश्वर रजक ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: समाजवादी चिंतनधारा के स्तंभ थे श्रीकृष्ण सिंह: डा. अनिल