अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलात्कार के आरोपित चाचा पर हुआ 24 घंटे में चार्जशीट

बलात्कारी चाचा को जेल भेजने के साथ ही पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मासूम से हुए बलात्कार के मामले में अनुसंधान पूरा कर न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दिया। बलात्कार जैसे संगीन जुर्म और इस सामाजिक कलंक के खिलाफ पुलिस के इस पलटवार से अपराधियों में खौफ पैदा होगी ऐसी संभावना है।ड्ढr ड्ढr गौरतलब है कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नदांव गांव में शनिवार की सुबह 10 वर्षीय मासूम को वहशी चाचा ने तब अपने हवस का शिकार बनाया था जब वो घर में अकेली थी, और उसके माता-पिता मजदूरी को गए थे। घटना की खबर लगते ही ग्रामीणों ने वहशी को जमकर पिटाई कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस द्वारा हिरासत में लेने के बाद मामले का अनुसंधान शुरू कर दिया गया। पुलिस अधीक्षक डॉ. परेश सक्सेना के निर्देश पर पुलिस तत्परता से उक्त मामले के अनुसंधान में जुटी। डीएसपी राजेश कुमार ने शनिवार को ही मामले का पर्यवेक्षण किया तथा अपनी रिपोर्ट सौंप दी।ड्ढr ड्ढr इधर दुष्कर्मी व बालिका का अनुमंडलीय अस्पताल में अनुसंधानकत्त्रा मुफस्सिल थानाध्यक्ष अमरनाथ झा ने मेडिकल जांच कराया। जांच के बाद चिकित्सकों ने भी दुष्कर्म की संभावना से इंकार नहीं किया है। मामले का अनुसंधान पूरा कर अनुसंधानकत्त्रा अमरनाथ झा ने रविवार को न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दिया। संभावना यह भी जताई जा रही है कि उक्त मामले की सुनवाई स्पीडी ट्रायल के जरीये हो।ड्ढr ड्ढr नेपाल में दो सरकारी कार्यालयों में बम विस्फोटड्ढr फारबिसगंजजोगबनी (नि.सं.)। नेपाल के तराई क्षेत्रों में आंदोलन के 12 वें दिन भी माहौल अस्त-व्यस्त है। राजविराज के दो सरकारी कार्यालयों मालपोत कार्यालय तथा नगर प्रहरी कार्यालय में मधेशी टायगर द्वारा बम विस्फोट किया गया। इनरवा के सुनसरी स्थित सिमरिया गांव के समीप बुद्धचौक के पास प्रदर्शनकारियों ने एम्बुलेंस में जमकर तोड़फोड़ की। इसके विरोध में एम्बुलेंस सेवा को ठप कर दिया गया है। शनिवार की रात 8 बजे से सबेरे 5 बजे तक सीमा पार विराटनगर में कफ्यरू लगा रहा । दुहबी में रात भर तनाव के मद्देनजर इलाका पुलिस छावनी में तब्दील रहा। कफ्यरू हटते ही सबेरे 8 बजे विराटनगर में मधेशियों के चिकित्सा संघ, विद्यार्थी फ्रंट ,विकास एवं अधिकार संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। शेडशेष चौक से निकला जुलूस भृकुटी चौक होकर महेन्द्र चौक पर पहुंचकर इस सभा में तब्दील हो गया।ड्ढr ड्ढr मुंगेर में मरीज की मौत पर हंगामाड्ढr मुंगेर (न.सं.)। शहर के एक निजी नर्सिग होम में रविवार की शाम मरीज की मौत से आक्रोशित परिजनों ने हंगामा किया एवं नर्सिग में तोड़फोड़ की। परिजनों का आरोप था कि उनके मरीज की मौत चिकित्सक की लापरवाही के साथ ही अत्यधिक धन लिप्सा के कारण हुई है, जबकि नर्सिग होम प्रबंधन द्वारा ऐसी किसी आरोप को बेबुनियाद बताते हुए इसे हृदयाघात से हुई मौत बताया गया है। नर्सिग होम में हंगामे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित किया। घटना के बाबत मृत मरीज 74 वर्षीय श्रीकांत झा के पुत्र ने बताया कि बीते 13 फरवरी को हार्ट अटैक होने पर उन्होंने अपने पिता को डा. राणा प्रताप को दिखलाया एवं उनकी सलाह पर अपने मरीज को सेवायन में भर्ती करा दिया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बलात्कार के आरोपित चाचा पर हुआ 24 घंटे में चार्जशीट