अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सवालों का गोल-मटोल जवाब न दें मंत्री : स्पीकर

स्पीकर आलमगीर आलम ने सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों से कहा है कि बजट सत्र का जनहित में अधिक से अधिक उपयोग करें। विपक्ष जनहित का मुद्दा उठाये और सरकार उसका ठोस जवाब दे। धरातल पर जो काम हुए हैं या किये जा सकते हैं, उसका विशेष उल्लेख करें। उन्होंने मंत्रियों से कहा है कि किसी भी जवाब का गोल-मटोल जवाब न दें। उन्होंने कहा कि लोगबाग चौक-चौराहे पर चर्चा कर रहे हैं कि सात साल से कोई काम नहीं हुआ है। विकास की योजनाएं ठप हैं। इसके लिए सभी जिम्मेवार हैं। बजट सत्र को लेकर सरकार के आला अफसरों के साथ स्पीकर ने बैठक की। परंपरा के मुताबिक स्पीकर ने सत्र के दौरान अफसरों को मुस्तैद रहने, सदस्यों द्वारा पूछे गये सवालों का जवाब समय पर उपलब्ध कराने और संभावित पूरक प्रश्नों से जुड़े हुए उत्तर मंत्रियों को ससमय देने का निर्देश दिया।ड्ढr स्पीकर ने अधिकारियों से कहा कि तैयारी नहीं रहने के कारण मंत्री कई बार पूरक प्रश्नों का उत्तर नहीं देते हैं। बैठक में मुख्य सचिव, कैबिनेट सचिव, गृह सचिव और पुलिस के डीजी समेत विधानसभा सचिवालय के अधिकारी भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सवालों का गोल-मटोल जवाब न दें मंत्री : स्पीकर