अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संदेह होने पर होगी शिक्षकों की भी तलाशी : मंत्री

माध्यमिक शिक्षा मंत्री रंगनाथ मिश्र ने कहा है कि शिक्षकों की तलाशी लेने का कोई औचित्य नहीं है, लेकिन संदेह या अनुचित साधनों की पुष्टि होने पर प्रधानाचार्य या आंतरिक सचल दस्ते द्वारा शिक्षक की तलाशी भी ली जाएगी। उन्होंने कहा परीक्षा केन्द्र में घुसने से पहले हर परीक्षार्थी की सघन तालाशी ली जाएगी। इसके लिए हर केन्द्र पर बाकायदा तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है। नकल में पकड़े गए छात्रों के खिलाफ एफआईआर नहीं दर्ज होगी, लेकिन शिक्षक अगर नकल कराते पकड़े गए तो उन्हें जेल की हवा खानी होगी। शिक्षकों ने अगर परीक्षा का बहिष्कार किया तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी और परीक्षा डय़ूटी में सरकारी कर्मचारियों को भी लगाया जाएगा।ड्ढr परीक्षा को नकल विहीन बनाने के लिए माध्यमिक शिक्षा मंत्री श्री मिश्र ने यहाँ सोमवार को पत्रकारों से कहा कि नकल के आरोप में पकड़े गए छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की जाएगी, लेकिन ऐसे मामलों को निपटाने के लिए परिषद अलग से कमेटी का गठन करेगा।कक्ष निरीक्षकों का फोटोयुक्त परिचय बनेगा, जिसमें उनके अन्य विवरणों के अलावा उनके द्वारा पढ़ाए जाने वाले विषय का भी जिक्र होगा। ताकि यह पता चले कि कक्ष निरीक्षक की डय़ूटी उनके द्वारा पढ़ाए जाने वाले विषय की परीक्षा में तो नहीं लगी है।ड्ढr 15 अफसर करेंगे निरीक्षण पृष्ठ-11

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संदेह होने पर होगी शिक्षकों की भी तलाशी : मंत्री