DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौकरी का झांसा नहीं, रेल का पास दो लालू जी : कुली संगठन

रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने लोकसभा में मेजों की थपथपाहट के बीच सारी दुनिया का बोझ उठाने वालों को नौकरी दिलाने की घोषणा की, लेकिन उनके संगठन के एक बड़े नेता ने इसे स्टेशनों से कुलियों का सफाया करने की चाल करार दिया। निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के कुली संगठन के प्रधान अब्दुल लतीफ से जब रेल मंत्री की घोषणा के बारे में प्रतिक्रिया पूछी गई तो उन्होंने कहा कि लालू जी से कह दो कि हमें फालतू का लालच न दें। आज तक हमारे बच्चों के लिए रेलवे का पास तो दिया नहीं, नौकरी देने चले हैं। लतीफ ने भावुक होकर कहा कि सात साल से इस स्टेशन पर बोझा ढो रहा हूं पर मेरी बीवी ने आज तक ट्रेन का मुंह नहीं देखा। उन्होंने कहा कि लाइसेंसी कुलियों को रेलवे साल में एक बार घर जाने का पास देती है। कुली और उसकी बीवी को ही यह पास मिलता है। ऐसे में उनके बच्चें का क्या होगा। क्या वे दूसरे डिब्बे में बैठकर जाएंगे। यही वजह है कि आज तक अपनी बीवी को गाड़ी में नहीं बैठा पाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘नौकरी का झांसा नहीं, रेल का पास दो लालू जी’