अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक माह में निदेशक की होगी नियुक्ित : चंद्रमोहन

इन्दिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (आईजीआईएमएस) की बदहाली और वहां स्थायी निदेशक के मुद्दे पर विपक्षी सदस्यों ने विधान परिषद में सरकार की बखिया उधेड़ दी तो सत्तारूढ़ जदयू के डा. शंभूशरण श्रीवस्तव ने भी इस मुद्दे पर उसे नहीं बख्शा। कार्यकारी सभापति अरुण कुमार ने कहा कि सदस्यों ने उस सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल की जो चर्चा की उससे उसकी दयनीय दशा उजागर हुई है।ड्ढr ड्ढr सरकार इसमें शीघ्र सुधार करे। विपक्ष के हमले से आहत स्वास्थ्य मंत्री चंद्रमोहन राय ने भाकपा के केदार पांडेय के ध्यानाकर्षण का जवाब देते हुए कहा कि एक माह के अंदर उस संस्थान में स्थायी निदेशक की नियुक्ित कर ली जाएगी। पूर्व में भी इसके लिए विज्ञापन निकाला गया था लेकिन नियम में परिवर्तन के कारण इस मामले में थोड़ा विलंब हुआ। संस्थान में राशि की कमी को स्वीकारते हुए मंत्री ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने इस संस्थान को अर्थिक सहायता बंद कर दी थी। वर्तमान सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है और स्थिति में सुधार के लिए राशि का प्रावधान किया है। उस राशि के अलावा राज्य योजना मद से भी संस्थान को पांच करोड़ दिया गया है। एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू करने के लिए भी पांच करोड़ का प्रावधान किया गया है। कई नई मशीनों की खरीद हुई है और 24 घंटे आपातकालीन सेवा लागू कर दी गई है। सुबह छह बजे से एक्सरे का काम शरू हो जाता है।ड्ढr ड्ढr इसके पूर्व केदार पांडेय ने मामला उठाते हुए कहा कि गैस्ट्रोइन्ट्रोलोजी और गैस्ट्रो सर्जरी विभाग दो वषरे से बंद है। सर्जिकल आईसीयू तो है ही नहीं, आठ बेड वाला दूसरा आईसीयू काम नहीं कर रहा है तो 8 वषरे से आेटी का काम अधूरा पड़ा है। मामले पर बोलते हुए डा. शंभू शरण श्रीवास्तव ने कहा कि उक्त अस्पताल की हालत पीएमसीएच से भी जर्जर है। वहां ऑपरेशन के बाद मरीज कॉरीडोर में रखे जाते हैं। मेडिकल कॉलेज शुरू करने के लिए आेएसडी डा. अरुण कुमार को बनाया गया है लेकिन उन्हें कोई अधिकार नहीं दिया गया है। मंत्री ने इसपर पीएमसीएच में हुए अप्रत्याशित सुधार को सरकार की उपलब्धि बताकर खुद को बचाने का प्रयास किया तो सदन में उपस्थित कांग्रेस के महाचंद्र सिंह, लोजपा के संजय सिंह और राजद के भीम सिंह ने मंत्री के उत्तर पर असंतोष जताया। महाचंद्र सिंह ने कहा कि उस अस्पताल की स्थिति किसी प्रखंड के अस्पताल जैसी हो गई है। बाद में मंत्री ने कहा कि अस्पताल में आेएसडी को अगर कोई कठिनाई है तो उसे दूर किया जाएगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक माह में निदेशक की होगी नियुक्ित : चंद्रमोहन