DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार को कठघरे में खड़ा किया नेता प्रतिपक्ष ने

विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान समानांतर भाषण करते हुए नेता प्रतिपक्ष अजरुन मुंडा ने सरकार की नाकामियों को बिंदुवार उजागर किया। मुंडा ने मुख्यमंत्री समेत सभी मंत्रियों के कारनामे भी एक-एक कर गिनाये। मुंडा जब तक बोलते रहे विपक्षी सदस्य मेज थपथपा कर उनका साथ देते रहे। नेता प्रतिपक्ष पूरी तैयारी के साथ सदन आये थे।ड्ढr जैसे ही राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ना शुरू किया, मुंडा भी सरकार पर वार करने लगे। मुंडा आरोप पत्र तैयार कर लाये थे। इसमें उन्होंने यूपीए के घटक दल कांग्रेस, झामुमो तथा राजद की गतिविधियों का भी उल्लेख किया। मुंडा ने ट्रांसफर-पोस्टिंग, बेलगाम नौकरशाही, बिजली पानी की दुर्दशा, गिरती कानून- व्यवस्था, सड़कों की दयनीय हालत, विस्थापन पुनर्वास नीति जैसे मामलों पर सरकार को कठघरे में खड़ा किया। विकास योजनाओं में लूट, कमीशन का बढ़ता रेट, कुशासन पर भी नेता प्रतिपक्ष ने सरकार पर चोट की।ड्ढr उन्होंने कहा कि ये तथ्य मात्र आरोप नहीं हैं। यह सरकार की नीति तथा नियत का सच उजागर करती है। राज्य में ऐसी सरकार चल रही है जिसके काले कारनामों से राज्य तो विकास की राह पर हर दिन पीछे की ओर जा रहा है। देश और दुनिया में झारखंड का नाम बदनाम हो रहा है। सरकार के सहयोगी दलों के नेताओं का दोहरा चरित्र उजागर हो गया है। यह सरकार जितने दिन तक चलेगी, राज्य में शासन व्यवस्था, विकास तथा सामाजिक समरसता की स्थिति बदतर होती जायेगी। मुंडा ने कहा कि वित्तीय कुप्रबंधन ने राज्य का बुरा हाल बना दिया है। राज्य के विकास का सपने निर्दलीयों के हाथों चूर हो रहे हैं।ड्ढr मुंडा ने सरकार के भीतर का हाल भी पढ़ा। इसमें बताया कि सरकार के सहयोगी दल कैसे सरकार को कठघरे में खड़ा करते हैं। सरकार के मंत्रियों में रोज खींचतान होती है। उन्होंने कहा कि निहित स्वार्थी तत्वों का यह समूह राज्यहित को मरघट की ओर ले जा रहा है। सभी मंत्रियों ने अपने विभागों को चारागाह बना दिया है। लूट का आलम है और सरकार विकास को लेकर अपना पीठ थपथपा रही है। अभिभाषण जनता को भरमाने वाला : अजरुन मुंडारांची (हिब्यू)। नेता प्रतिपक्ष अजरुन मुंडा ने कहा कि सरकार पहले सड़ी-गली थी। अब पिलपिली हो गयी है। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद वह हिन्दुस्तान से बात कर रहे थे। सदन में राज्यपाल के अभिभाषण के समानांतर भाषण के औचित्य पर नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि महामहिम के अभिभाषण में गप और झूठ छोड़ कर कुछ भी नहीं है। हर मोरचे पर विफल सरकार ने भरमाने वाला अभिभाषण तैयार किया है। मुंडा ने कहा कि सदन के माध्यम से हम राज्य की जनता को बताने चाहते हैं कि सरकार के कामकाज का सच क्या है। विपक्ष के मुद्दे क्या होंगे, सवाल पर मुंडा ने कहा कि सरकार को घेरने के लिए मुद्दों और सवालों की भरमार है। बिजली की दुर्दशा ने राज्य को पीछे ढकेल दिया है। कुशासन और भ्रष्टाचार का मुद्दा भी अहम है। विपक्ष रणनीति के तहत सरकार और समर्थन देने वाले यूपीए का चेहरा उजागर करेगा। उन्होंने कहा कि सरकार के मंत्रियों के कारनामे भी सदन में उजागर होंगे। इसके लिए पूरी तैयारी की गयी है। उन्होंने संकेत दिया कि नौकरशाही की लीला का मामला भी महत्वपूर्ण है। सदन में सरकार से पूछेंगे कि ये सब क्या है?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार को कठघरे में खड़ा किया नेता प्रतिपक्ष ने