DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गलत प्रश्नपत्र खोला तो फँसेंगे केन्द्र व्यवस्थापक

अफसरों ने बुधवार को प्रधानाचायरे व केन्द्र व्यवस्थापकों को बोर्ड परीक्षा के सफल संचालन के टिप्स दिए। साथ ही उन्हें सचेत भी किया कि थोड़ी सी असावधानी उन्हें व प्रशासन दोनों को परेशानी में डाल सकती है। अधिकारियों ने परीक्षा शुरू होने से लेकर उत्तर पुस्तिकाआें को वापस पहुँचाने तक में विशेष सतर्कता बरतने की हिदायद दी।ड्ढr जयनरायन इण्टर कॉलेज चारबाग में हुई बैठक में डीआईआेएस गणेश कुमार ने प्रधानाचायरे व केन्द्र व्यवस्थापकों को प्रश्नपत्रों को खोलने में विशेष सावधानी बरतने को कहा। उन्होंने कहा कि प्रश्नपत्रों के पैकेट के ऊपर लिखे नम्बर गोपनीय सूची से अच्छी तरह मिलाकर ही खोले जाएँ। गलत पैकेट खुलने पर केन्द्र व्यवस्थापक मुसीबत में फँसेंगे और कई जिलों की परीक्षा भी प्रभावित हो जाएगी। इस कोड के प्रश्न पत्र जितने जिलों में भेजे गए होंगे बोर्ड को उन सभी जिलों में नए प्रश्न पत्र भेजने पड़ेंगे।ड्ढr इस पर आने वाला पूरा खर्च केन्द्र व्यवस्थापक को भरना होगा और उनके खिलाफ कार्रवाई भी होगी। उन्होंने केन्द्र व्यवस्थापकों से कहा कि वह सभी कक्ष निरीक्षकों से इस बात का प्रमाण पत्र अवश्य ले लें कि उनके घर परिवार का कोई छात्र केन्द्र पर परीक्षा नहीं दे रहा है। ऐसा होने पर कक्ष निरीक्षक की कतई डय़ूटी न लगाएँ। जिस छात्र-छात्रा को नकल करते पकड़ंे उसके बारे में प्रपत्र में पूरा उल्लेख करें। नकल सामग्री छात्र के पास से बरामद हुई है या आसपास मिली है इसका भी जिक्र करें। डीआईआेएस ने एक बार फिर साफ किया कि परीक्षा में नकल करते पकड़े जाने वाले छात्र की परीक्षा निरस्त कर दी जाएगी। उनके खिलाफ एफआईआर नहीं होगी। यदि छात्र शिक्षक को धमकाता है, मारपीट करता है, कॉपियाँ फाड़ता है अथवा लेकर भागता है तभी उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज होगी।ड्ढr नकल कराने वालों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज होगा। अपर पुलिस अधीक्षक नगर ने केन्द्र व्यवस्थापकों को पूरी तरह सुरक्षा देने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि केन्द्रों पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात होंगे। उपद्रवी तत्वों से सख्ती से निपटा जाएगा। अमीनाबाद इण्टर कॉलेज के प्रधानाचार्य जेपी मिश्रा ने कहा कि थानों के मुंशी एफआईआर दर्ज करने में आना-कानी करते हैं।ड्ढr क्वींस कॉलेज के प्रधानाचार्य व माध्यमिक शिक्षक संघ के वरिष्ठ नेता आरपी मिश्रा ने कहा कि हम परीक्षा बहिष्कार के निर्णय पर अडिग हैं। माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों के सम्मान को ठेस पहुँचाई है। लिहाजा चार मार्च से शुरू हो रही परीक्षा का शिक्षक बहिष्कार करेंगे।यूपी बोर्ड की चार मार्च शुरू हो रही परीक्षाआें में 40 परीक्षा केन्द्र संवेदनशील चिह्न्ति हुए हैं। इन केन्द्रों पर पुलिस-प्रशासन की विशेष नजर रहेगी।बीकेटी ब्लाक के सर्वाधिक चार परीक्षा केन्द्र संवेदनशील घोषित हुए हैं। काकोरी, मोहनलालगंज, माल व नगराम के दो-दो तथा सरोजनीनगर व गोसाईंगंज का एक-एक कॉलेज संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की सूची में है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गलत प्रश्नपत्र खोला तो फँसेंगे केन्द्र व्यवस्थापक