अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदी में भी चमका कोल इंडिया

विश्वव्यापी मंदी में भी कोल इंडिया की चमक बरकरार रही। कंपनी ने 31 मार्च 0ो समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में टैक्स अदा करने से पहले करीब 4240 करोड़ का लाभ कमाया। कर्मियों के पे रिवीजन का प्रभाव नहीं होने से यह दोगुना से ज्यादा होता। पिछले वर्ष नये वेतन का प्रावधान किये बिना करीब रोड़ का लाभ हुआ था।ड्ढr कंपनी में करीब 4.25 लाख कर्मी हैं। अधिकारी लगभग 16 हाार हैं। इस साल दोनों के नये वेतन के लिए प्रावधान करना पड़ा है। कामगारों का वेतन समझौता हो चुका है। उनके वेतन पर करीब 4660 करोड़ खर्च होंगे। अधिकारियों का इस माह हो जाने की उम्मीद है। उनके लिए 751 करोड़ का प्रावधान किया गया है।ड्ढr उत्पादन 6.4 फीसदी बढ़ाड्ढr कोल इंडिया के उत्पादन में वर्ष 2008-0में 6.4 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी। इस साल कंपनी ने 403.73 मिलियन टन उत्पादन किया। पिछले साल 37एमटी उत्पादन हुआ था। ओवर बर्डेन हटाने में 6.5 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है। बीते साल 610 की तुलना में इस वर्ष 646.मिलियन क्यूबिक मीटर ओबीआर हटाया गया। इसी तरह डिस्पैच भी 6.प्रतिशत अधिक हुआ। बीते साल 375 की तुलना में इस वर्ष कंपनी ने करीब 401.33 एमटी कोयले का डिस्पैच किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंदी में भी चमका कोल इंडिया