अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज लोभियों ने लांघी दिरदगी की हद

दहेज लोभी लालच के वशीभूत होकर दरिंदगी की किस सीमा तक उतर सकते हैं, ये पीड़ा कोई कमतौल थानान्तर्गत कोठिया गांव के शिवशंकर झा और उनकी पुत्री मुनचुन कुमारी (20) से पूछे। मुनमुन के पति, ससुर एवं ससुराल के अन्य लोगों बीती 25 फरवरी 08 को उसे बुरी तरह पीटा। वजह दहेज थी। पिटाई से जब उन लोगों का मन नहीं भरा तो उन्होंने उसके मलद्वार को धारदार हथियार से चीरकर उसमें भूसा और मिर्ची भर दी। इस दौरान मुनचुन को बांध दिया गया था।ड्ढr ड्ढr जब वह बेहोश हो गई तो उसे बाथरूम में डाल दिया गया। अगर उसी दिन उसके पिता जाले ब्राह्मण टोली स्थित मुनचुन की ससुराल न पहुंच पाते तो शायद वह इस दुनिया में ही नहीं होती। मुनचुन के मायके वालों के अनुसार उसे बेहोशी की हालत में इलाज के लिए डीएमसीएच में भर्ती कराया गया। बुधवार की शाम बेता आेपी की पुलिस ने पीड़िता का फर्द बयान लिया है। अब तक ससुराल पक्ष से किसी की भी गिरफ्तारी की सूचना नहीं है। मुनचुन के पिता गरीब हैं। खेती- पथारी से किसी तरह उनकी गुजर-बसर होती है। उनके सात बच्चों में मुनचुन सबसे बड़ी है। पिछले वर्ष मई में शिवशंकर ने जाले पश्चिमी पंचायत निवासी होमियोपैथिक चिकित्सक डॉ. हरेराम झा के पुत्र सोमनाथ झा के साथ मुनचुन की शादी की थी। सोमनाथ घर पर ही खेतीबारी करता है। इस बीच मुनचुन पर दहेज के लिए दबाव पड़ने लगा।ड्ढr ड्ढr उससे 50 हजार रुपए और एक मोटरसाइकिल की मांग होने लगी। मुनचुन अपने पिता की गरीबी का हवाला देकर दहेज देने में असमर्थता व्यक्त किया करती थी। जिसके कारण उसे लगातार प्रताड़ित किया जाता था। इसी क्रम में 25 फरवरी को यह अमानवीय घटना घटी। इस घटना की भनक मुनचुन के नरौछ निवासी नाना सूर्यकांत झा को पड़ोसियों से लगी तो वह जाले गए। वहां हरेराम झा ने मुनचुन के गर्भपात की बात कह उसे इलाज के लिए दरभंगा ले जाने को कहा। ये सूचना पाकर मुनचुन के पिता 26 को जाले गए और उसे कोठिया ले गए। जहां उन्हें इस सारी दरिंदगी का पता चला।ड्ढr लहेरियासराय से ए.सं. के अनुसार डीएमसीएच के डा. अरुण कुमार की यूनिट में भर्ती पीड़िता के मलद्वार से तीन मुट्ठी भूसा निकाले जाने की पुष्टि डाक्टरों ने की है। डॉक्टरों ने इस घटना को तीन दिन पूर्व का बताया है। मलद्वार (रेक्टम) में जख्म के तीन-चार निशान पाए गए हैं। मरीज को खतरे से बाहर बताया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दहेज लोभियों ने लांघी दिरदगी की हद